चाणक्‍य नीति: नहीं होगी धन की कमी, अपनाएं चाणक्‍य के ये सिद्धांत

चाणक्‍य नीति: नए साल की शुरुआत के साथ ही लोग नई-नई कसमें खा रहे हैं। कई लोग पैसे बचाने के लिए कुछ नियम बनाते हैं। अगर आप भी पैसा बचाने की सोच रहे हैं तो आपको चाणक्य की ये नीति अपनानी चाहिए.

अगर आप अपने जीवन को खुशहाल बनाना चाहते हैं और मां लक्ष्मी का स्थाई वास चाहते हैं तो आपको चाणक्य नीति का पालन करना चाहिए।

आचार्य चाणक्य कहते हैं कि लक्ष्मी की चाहत हर किसी को होती है, लेकिन मां लक्ष्मी का आशीर्वाद हर किसी को नहीं मिलता। तो ऐसे में घर में आर्थिक समृद्धि और मां लक्ष्मी की कृपा के लिए चाणक्य नीति का पालन करना बहुत जरूरी है।

दिखावा न करें- चाणक्य कहते हैं कि मां लक्ष्मी का आशीर्वाद पाने के लिए बिल्कुल भी दिखावा न करें। व्यक्ति को झूठ और दिखावा आदि से दूर रहना चाहिए। ऐसा माना जाता है कि ये चीजें मनुष्य को अंधकार की ओर ले जाती हैं। ऐसी स्थिति में व्यक्ति गरीब हो जाता है. मां लक्ष्मी की कृपा बनाए रखने के लिए धन, सौंदर्य और पद का प्रदर्शन बिल्कुल भी नहीं करना चाहिए।

कलह से बचें- कहते हैं जिस घर में कलह, कलह और कलेश होता है, उस घर में कभी भी देवी लक्ष्मी की कृपा नहीं होती है. इतना ही नहीं, जिन घरों में बड़ों का सम्मान, महिलाओं का सम्मान और दूसरों के हितों की अनदेखी की जाती है। वहां माता लक्ष्मी भी कभी निवास नहीं करतीं। ऐसे में इन बातों का ध्यान रखने से मां लक्ष्मी की कृपा प्राप्त होती है।

यथा शक्ति के अनुसार दान करें – ऐसा माना जाता है कि यदि कोई व्यक्ति दिल खोलकर दान करता है तो उसके धन में वृद्धि होती है। ऐसे में व्यक्ति को खुले दिल से परोपकार का कार्य करना चाहिए। ऐसा करने से आर्थिक तंगी दूर होती है और मां लक्ष्मी की कृपा बनी रहती है। हिंदू धर्म में दान का विशेष महत्व बताया गया है।