ज्ञान: दुनिया 5 अक्टूबर को विश्व शिक्षक दिवस क्यों मनाती है, कारण जानिए

World-Teachers-Day

विश्व शिक्षक दिवस हर साल 5 अक्टूबर को पूरी दुनिया में मनाया जाता है। विश्व शिक्षक दिवस को अंतर्राष्ट्रीय शिक्षक दिवस के रूप में भी मनाया जाता है । इस दिन शिक्षकों को छात्रों के लिए उनके योगदान के लिए सम्मानित किया जाता है। इस दिन बहुत से लोग इकट्ठे होते हैं। ये लोग देश के साथ-साथ विश्व स्तर पर शिक्षकों के सामने आने वाली समस्याओं को पहचानते हैं। वे इन मुद्दों के समाधान खोजने के लिए बैठकें, सम्मेलन और इसी तरह का आयोजन भी करते हैं।

वहीं, इस साल के विश्व शिक्षक दिवस की थीम ‘शिक्षा में बदलाव की शुरुआत शिक्षकों से होती है। यूनेस्को, ILO और एजुकेशन इंटरनेशनल के अधिकारियों द्वारा जारी एक संयुक्त संदेश में कहा गया है, ‘आज विश्व शिक्षक दिवस पर, हम छात्रों की क्षमता को बदलने में शिक्षकों की महत्वपूर्ण भूमिका का जश्न मनाते हैं। शिक्षक सुनिश्चित करते हैं कि छात्रों के पास स्वयं, दूसरों और दुनिया की जिम्मेदारी लेने के लिए आवश्यक उपकरण हों। शिक्षकों पर भरोसा किया जाना चाहिए और उन्हें ज्ञान बढ़ाने वाले और नीति भागीदारों के रूप में पहचाना जाना चाहिए।

विश्व शिक्षक दिवस की शुरुआत कैसे हुई?

1994 में, यूनेस्को ने 5 अक्टूबर को विश्व शिक्षक दिवस के रूप में घोषित किया। इसका उद्देश्य यूनेस्को/आईएलओ द्वारा अनुशंसित प्रथाओं को अपनाने का सम्मान करना था। यह यूनेस्को द्वारा पेरिस में आयोजित एक अंतर सरकारी सम्मेलन का हिस्सा था। जिसने अंतर्राष्ट्रीय श्रम संगठन (ILO) के सहयोग से शिक्षकों की स्थिति को मान्यता दी। सुझाए गए तरीकों को अपनाने के बाद, संयुक्त राष्ट्र शैक्षिक, वैज्ञानिक और सांस्कृतिक संगठन (यूनेस्को) ने 5 अक्टूबर को विश्व शिक्षक दिवस के रूप में घोषित किया।

इसका महत्व क्या है?

विश्व शिक्षक दिवस के माध्यम से इस दिन दुनिया भर में शिक्षकों की उपलब्धियों, योगदान और प्रयासों को मान्यता दी जाती है। साथ ही इस दिन को मनाकर शिक्षकों का उत्साहवर्धन किया जाता है। दुनिया भर के नीति निर्माता और विशेषज्ञ भी इस दिन का उपयोग शिक्षा पेशे से संबंधित मुद्दों की पहचान करने और उन्हें संबोधित करने के अवसर के रूप में करते हैं।

इस दिन को मनाने के लिए दुनिया भर के कई स्कूल शिक्षकों के लिए सांस्कृतिक कार्यक्रम आयोजित करते हैं। कई जगहों पर इस दिन शिक्षकों के लिए छुट्टी भी होती है। कई नीति निर्माता और शिक्षा विशेषज्ञ दुनिया भर के शिक्षकों के सामने आने वाली समस्याओं की पहचान करने के लिए सम्मेलनों और बैठकों का आयोजन करते हैं और इन समस्याओं के समाधान पर विचार-मंथन करने का प्रयास करते हैं। यह दिन शिक्षकों के महत्व को उजागर करने और इस पेशे में शामिल होने वालों को मार्गदर्शन या प्रेरित करने के लिए दिया जाता है।

Check Also

Transgenders Can Apply For Police Bharti

पुलिस भारती : बड़ी खबर! पुलिस भर्ती में थर्ड पार्टी को भी मौका, जल्द लागू होंगे नए नियम

Maharashtra Police Constable Recruitment : बॉम्बे हाईकोर्ट ने ट्रांसजेंडरों के लिए एक ऐतिहासिक फैसला लिया है। पुलिस भारती …