26 जून से विस्टाडोम कोच के साथ किरंदुल एक्सप्रेस जगदलपुर होकर विशाखापटनम जाएगी

जगदलपुर, 22 जून (हि.स.)। विशाखापटनम रेल मंडल मुख्यालय से जारी किए गए आदेश में उल्लेख किया गया है कि विशाखापटनम से अरकू तक संचालित हो रही विस्टाडोम कोच का विस्तार 25 जून को विशाखापटनम से किरंदुल तक किया जाएगा, जो 26 जून से किरंदुल से जगदलपुर होकर विशाखापटनम जाएगी, यह सुविधा नियमित की जाएगी। बस्तरवासियों के द्वारा लंबे समय से विस्टाडोम कोच की मांग कर रहे थे।

अंचल के लोगों के इस मांग को भाजपा के पूर्व विधायक संतोष बाफना लगातार विशाखापटनम रेल मंडल, पूर्व तट रेल जोन और रेल बोर्ड को समय-समय पर पत्र के द्वारा ध्यान आकृष्ट कराया जा रहा था। इसके अलावा भाजपा के पूर्व सांसद दिनेश कश्यप ने भी बस्तर में यात्री रेल सुविधा की विभिन्न मांगों में विस्टाडोम कोच सुविधा बस्तर में शुरू करने रेल मंत्री अश्वनी वैष्णव को मांग पत्र सौंपकर ध्यान आकृष्ट कराया था।

प्राप्त जानकारी के अनुसार विस्टाडोम ट्रेन की पूरी बोगी पारदर्शी है, 25 जून को विशाखापटनम से विस्टाडोम कोच के साथ ट्रेन रवाना होगी और वापसी में 26 जून को किरंदुल से सुबह 05 बजे रवाना होकर सुबह 9.55 बजे जगदलपुर पहुंचकर यहां से विशाखापटनम के लिए रवाना होगी। इस ट्रेन की खासियत यह है कि विस्टाडोम की पूरी बोगी पारदर्शी है और 380 डिग्री एंगल में घुमने वाली रिवार्लिंग चेयर से सुसज्जित है, 02 विस्टाडोम कोच, 01 स्लीपर क्लास, 08 जनरल क्लास, 01 सेंकड क्लास लगेज कम डिसेबल्ड कोच और मोटर कार शामिल रहेगा।

उल्लेखनीय है कि बस्तर के दंतेवाड़ा जिले के किरंदुल से विशाखापट्टनम के लिए दो पैसेंजर ट्रेने चलती हैं। जिनमें से एक दिन की ट्रेन है तो वहीं दूसरी नाइट एक्सप्रेस है। इन दोनों यात्री ट्रेनों से रोजाना सैकड़ों यात्री किरंदुल से ओडिशा और विशाखापट्टनम का सफर तय करते हैं। विस्टाडोम कोच ऐसे डिब्बे हैं, जिनमें चौड़ी खिड़कियां हैं, छतें भी कांच की हैं, पारदर्शी छत इसका खास आकर्षण है, जिससे यात्री पूरे रास्ते प्रकृति का आनंद ले सकेंगे। विस्टाडोम कोच को लोग भी खूब पसंद करते हैं, लेकिन इसमें यात्री केवल दिन में ही आनंद ले सकते हैं। विदित हो कि फरवरी 2022 में डीआरएम अनूप सतपथी ने दिन में चलने वाली ट्रेन में विस्टाडोम कोच जोड़कर ट्रायल लेने स्वयं इसी से जगदलपुर पहुंचे थे। सारे एंगल से जांच करने के बाद अब इस कोच को जोड़ने का निर्णय लिया गया है।

भाजपा नेता रजनीश पानीग्राही ने कहा कि विस्टाडोम कोच के माध्यम से स्थानीय यात्रियों एवं पर्यटकों को प्राकृतिक रूप से समृद्ध बस्तर की नैसर्गिक छटा का आनंद उठाने का अवसर मिलेगा। उन्होंने कहा कि बस्तर पर्यटकों की सबसे पसंदीदा जगहों में से एक है, यहां बड़ी संख्या में देशी-विदेशी पर्यटक पहुंचते हैं। विश्व प्रसिद्ध बस्तर दशहरा पर्व के दौरान यहां आने वाले पर्यटकों की संख्या में विस्टाडोम कोच के कारण भारी इजाफा होगा। उन्होंने बताया कि लंबे समय से बस्तरवासी इस कोच की मांग कर रहे थे जो अब जाकर पूरा हुआ है।

Check Also

महिलाओं के शर्ट के बटन बाईं ओर और पुरुषों की शर्ट के बटन दाईं ओर क्यों होते हैं? जानिए इसके पीछे की वजह

दुनिया में हर दिन नई खोजें हो रही हैं। मनुष्य की जिज्ञासा, खोज और कड़ी मेहनत …