पॉलीग्राफ टेस्ट में हत्यारे आफताब का कबूलनामा, मैंने श्रद्धा को मारा- मुझे कोई मलाल नहीं

दिल्ली के महरौली के विवादित श्रद्धा हत्याकांड में एक बड़ी जानकारी सामने आई है . पॉलीग्राफ टेस्ट के दौरान आरोपी आफताब ने श्रद्धा की हत्या करना कबूल किया है। पॉलीग्राफ टेस्ट कराने वाले पुलिस अधिकारियों ने आफताब के कबूलनामे की जानकारी दी है. सूत्रों के मुताबिक आफताब ने कहा कि उन्हें श्रद्धा की हत्या करने का कोई मलाल नहीं है. अब एक दिसंबर को आफताब का नार्को टेस्ट कराया जाएगा।

उल्लेखनीय है कि आफताब का 5वां यानी आखिरी पॉलीग्राफ टेस्ट कल मंगलवार को फॉरेंसिक साइंस लेबोरेटरी (एफएसएल) कार्यालय में किया गया था. एफएसएल के एक अधिकारी ने बताया कि आफताब का पॉलीग्राफ टेस्ट हो चुका है। पॉलीग्राफ टेस्ट की रिपोर्ट जल्द सौंपी जाएगी। वहीं, दिल्ली पुलिस को कोर्ट ने अगले एक दिसंबर को आफताब का नार्को टेस्ट कराने की इजाजत दे दी है.

कल मंगलवार को कड़ी पुलिस सुरक्षा के बीच आफताब को 5वीं बार फॉरेंसिक साइंस लेबोरेटरी कार्यालय लाया गया था, क्योंकि दिल्ली पुलिस की एक वैन पर पिछले सोमवार देर शाम कुछ तलवारबाजों ने हमला किया था। ये लोग हिंदू सेना के सदस्य बनकर निकले हैं। हमले के बाद एफएसएल कार्यालय के बाहर सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) को तैनात कर दिया गया है। और सुरक्षा व्यवस्था को पुख्ता किया गया है।

 श्रद्धा के शरीर की 13 हड्डियां मिली हैं

विश्वस्त सूत्रों के मुताबिक, दिल्ली पुलिस ने आफताब की बताई जगह से श्रद्धा के शव के जबड़े की हड्डियां भी बरामद की हैं. श्रद्धा के शरीर के कई टुकड़े गुरुग्राम के उस इलाके से बरामद किए गए हैं जहां श्रद्धा के शव को फेंका गया था। उधर, जिस घर में आफताब ने श्रद्धा की हत्या की, उसके बाथरूम, किचन और बेडरूम में खून के धब्बे मिले हैं। उनकी जांच रिपोर्ट आने में कुछ समय लगेगा। श्रद्धा के क्षत-विक्षत शरीर से अब तक 13 हड्डियां बरामद की जा चुकी हैं।

Check Also

सर्जिकल स्ट्राइक: सर्जिकल स्ट्राइक पर उठे नए सवाल, सेना के शीर्ष अधिकारी बोले- ‘जब हम कोई ऑपरेशन करते हैं…’

RP Kalita On Surgical Strike:, “सेना कभी भी किसी ऑपरेशन को अंजाम देने के लिए …