कानपुर : सपा विधायक इरफान सोलंकी ने उड़ाई आचार संहिता की धज्जियां

कानपुर, 15 जनवरी (हि.स.)। वैश्विक महामारी कोरोना के बढ़ते दायरे को देखते हुए निर्वाचन विभाग ने डोर टू डोर संपर्क करने के लिए भी उम्मीदवारों के लिए शर्त रख दी है। यानी पांच लोगों के साथ ही जनसंपर्क किया जा सकता है और कोविड के नियमों का पालन करना होगा। लेकिन सपा विधायक इरफान सोलंकी निर्वाचन आयोग के नियमों को धता बताकर भारी भीड़ के साथ जनसंपर्क किया। जिसका वीडियो वायरल हो गया और निर्वाचन विभाग के अधिकारियों ने मामले का संज्ञान ले लिया।

उत्तर प्रदेश के आगामी विधानसभा चुनाव के तहत तीसरे चरण में कानपुर जनपद का भी चुनाव होने जा रहा है। इसके साथ ही निर्वाचन विभाग ने कोरोना के बढ़ते केसों को देखते हुए सभी प्रकार की रैलियों पर रोक लगा दी है। यही नहीं उम्मीदवार डोर टू डोर संपर्क कर सकते हैं। इसके साथ ही यह भी शर्त लगा दी गई है कि पांच लोगों के साथ ही जनसंपर्क किया जा सकता है और सभी लोग कोरोना गाइडलाइन का पालन करेंगे यानी मास्क लगाने की अनिवार्यता होती होगी। लेकिन सीसामऊ विधायक इरफान सोलंकी निर्वाचन आयोग के नियमों को दरकिनार कर भारी भीड़ के साथ जनसंपर्क किया।

इसका वीडियो सोशल मीडिया में वायरल हो गया। विधायक खुद मास्क नहीं लगाए हुए हैं और न ही उनके साथ भारी भीड़ मास्क् लगाये हुए है। दो गज की दूरी की बात तो बहुत दूर है भारी भीड़ इरफान को दिखाने के लिए जमकर नारेबाजी कर रही थी और खचाखच भीड़ को देखकर सपा विधायक उत्साहित दिख रहे हैं। वायरल वीडियो का जिला निर्वाचन अधिकारी विशाख जी अय्यर ने संज्ञान ले लिया है और कहा कि जांच कर आगे की कार्रवाई की जाएगी।

Check Also

पानीपुरी में कार चालक ने तीन बहनों को कुचला, नशे में था कार चालक

उत्तर प्रदेश से एक चौंकाने वाली खबर सामने आई हैउत्तर प्रदेश के नोएडा में सेक्टर 45 …