JEE Main Exam 2021: फिजिक्स सेक्शन की तैयारी के लिए अपनाएं ये फॉर्मूला, पाएं बेहतर अंक

देश में हर साल लाखों उम्मीदवार JEE  मेन परीक्षा (JEE Main Exam 2021) में शामिल होते है. इसमें कुछ ही छात्र सफल हो पाते हैं. परीक्षाओं में सफल ना होने वाले अधिकतर छात्रों की अगर बात मानें तो उन्हें सबसे ज्यादा परेशानी फिजिक्स सेक्शन में होती है. JEE मेन परीक्षा (JEE Main Exam 2021) की तैयारी कर रहे छात्रों को फिजिक्स सेक्शन से डर लगता है. बता दें कि इस बार JEE मेन परीक्षा (JEE Main Exam 2021) 2 शिफ्टों में आयोजित की जाएगी. इसके अनुसार पहली शिफ्ट सुबह 9.00 बजे से दोपहर 12.00 बजे तक की होगी. वहीं दूसरी शिफ्ट दोपहर 3 बजे से शाम 6 बजे तक होगी.

JEE मेन परीक्षा में गणित, बायोलॉजी और केमिस्ट्री जैसे विषय भी होते हैं, लेकिन फिजिक्स के फॉर्मूलों को लेकर छात्रों में अक्सर डर बना रहता है. पुराने कुछ वर्षों की परीक्षा पर नजर डालें तो ज्यादातर छात्रों के सबसे कम मार्क्स फिजिक्स सेक्शन में ही आते हैं. पुराने प्रश्नपत्रों के आधार पर कुछ ऐसे ट्रिप्स तैयार किए गए हैं जिसे फॉलो करके फिजिक्स सेक्शन में अच्छा स्कोर किया जा सकता है.

रोजाना प्रैक्टिस करें

फिजिक्स विषय प्रैक्टिस का विषय है. इसमें यदि आप यह सोचेंगे कि एक दिन में पढ़ लेने से सारे टॉपिक्स तैयार हो जाएंगे तो आप अपने करियर के साथ खिलवाड़ कर रहे हैं. इस विषय में बेस्ट स्कोर करने के लिए आपको जमकर प्रैक्टिस करना होगा. रोजाना प्रैक्टिस करने से आपकी स्पीड भी अच्छी हो जाएगी.

JEE परीक्षा में फिजिक्स सेक्शन के कम्युनिकेशन सिस्टम, इलेक्ट्रॉनिक उपकरण, ऑप्टिक्स और काइनेमेटिक्स जैसे टॉपिक ऐसे हैं जिनसे सबसे ज्यादा प्रश्न पूछे जाते हैं. आपके लिए जरूरी है कि इन टॉपिक्स पर जितना ज्यादा हो सके प्रैक्टिस करें.

पुराने पेपर की मदद लें

फिजिक्स जैसे विषय को क्रैक करने के लिए आपको पक्की तैयारी की जरूरत है. आप जितना ज्यादा प्रैक्टिस करेंगे इतना स्ट्रॉन्ग तैयारी करेंगे. प्रैक्टिस के लिए सबसे सही तरीका है कि आप विगत कुछ वर्षों के प्रश्नपत्रों को इक्कट्ठा करलें और उसको नियम से रोजाना सॉल्व करें. इसके लिए आपको कम से कम 10 साल के पेपर जुटाने होंगे. पुराने पेपर से प्रैक्टिस करने से आपको परीक्षा में फिजिक्स सेक्शन के सही पैटर्न का अंदाजा लग जाएगा.

Important फॉर्मूलों की लिस्ट बनाएं

JEE जैसी बड़ी परीक्षाओं की तैयारी में कोई कमी नहीं रखनी है. परीक्षा के दौरान ज्यादातर छात्रों के साथ यह होता है कि वो फॉर्मूलों को भूल जाते हैं. खासकर फिजिक्स सेक्शन के फॉर्मूले थोड़े ट्रिकी भी होते हैं. इसलिए आपको अपनी तैयारी के दौरान है फॉर्मूलों की एक लिस्ट बना लेनी चाहिए. प्रैक्टिस के दौरान यह लिस्ट अपने पास रखें. ताकि जब आप किसी सवाल में फैंस जाए तो उस लिस्ट की मदद से फॉर्मूलों को देख सकेंगे.

रिवीजन करें

प्रैक्टिस के साथ-साथ रिवीजन भी करें. रिवीजन का अर्थ ये नहीं कि परीक्षा से 1 सप्ताह पहले रिवीजन शुरू करें. आपको रोजाना पढ़ें हुए टॉपिक को रिवीजन करना होगा. इसके लिए आपको फॉर्मूलों की लिस्ट की भी मदद लेनी चाहिए. इसके अलावा नीचे दिए बातों का खास ध्यान रखें.

  • रोजाना 8-10 घंटे पढ़ाई करें.
  • फिजिक्स सेक्शन के लिए 3-4 घंटे का समय दें.
  • सोशल मीडिया से दूर रहें.
  • खुद का टेस्ट लेते रहें.
  • खुद को स्वस्थ रखें.
  • योगा या एक्सरसाइज के लिए रोजाना समय निकालें.

Check Also

REET 2021:भाषा व विषय में संशोधन के लिए एक और अंतिम अवसर; प्रत्येक संशोधन का शुल्क 300 रुपए, 15 मार्च लास्ट डेट

  पहली पारी सुबह 10 बजे से दोपहर 12:30 बजे तक रहेगी। इसमें स्तर द्वितीय …