ममता पर बरसे जयराम रमेश, कहा- 42 सीटों पर अकेले लड़ना सीट शेयरिंग फॉर्मूला नहीं

टीएमसी सीट शेयरिंग पर जयराम रमेश : जैसे-जैसे लोकसभा चुनाव नजदीक आ रहे हैं, वैसे-वैसे भारतीय गठबंधन में सीट शेयरिंग को लेकर विवाद अभी भी बना हुआ है। हाल ही में नीतीश कुमार ने बिहार में नई सरकार बनाने के लिए बीजेपी से हाथ मिला लिया है और भारत गठबंधन से नाता तोड़ लिया है, वहीं दूसरी ओर पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी और कांग्रेस के बीच सीट बंटवारे को लेकर जुबानी जंग चल रही है. ममता पहले कह चुकी हैं कि उनकी पार्टी राज्य की 42 सीटों पर अकेले चुनाव लड़ेगी. अब इस मामले में कांग्रेस ने भी ममता को जवाब दिया है.

कांग्रेस टीएमसी से ईमानदारी से बात करेगी: जयराम रमेश

कांग्रेस महासचिव जयराम रमेश ने कहा, ‘सीट बंटवारे को लेकर कांग्रेस पार्टी ईमानदारी से टीएमसी के साथ बैठक करेगी और चर्चा करेगी और जब फैसला होगा तब घोषणा करेगी. पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ने कहा है कि वह लोकसभा चुनाव 2024 में 42 सीटों पर चुनाव लड़ेंगे, यही उनकी लड़ाई है. जब हम गठबंधन में होते हैं तो संवाद होता है. हम लेते कुछ हैं और देते कुछ हैं। उनका हमारी तरफ से 42 सीटों पर चुनाव लड़ना, कोई शीट फॉर्मूला नहीं है.’

‘इंडिया शाइनिंग, इंडिया गोइंग’

उन्होंने कहा, ‘दिसंबर 2003 में कांग्रेस पार्टी का मनोबल गिर गया था. जब हम छत्तीसगढ़, मध्य प्रदेश और राजस्थान हार गए तो अखबारों ने लिखा कि कांग्रेस पार्टी चली गई. उस समय भारत चमक रहा था और अटल बिहार वाजपेई जैसा व्यक्ति प्रधानमंत्री था। फिर क्या हुआ साल 2004 में गठबंधन की सरकार बनी. इंडिया शाइनिंग इंडिया जा रहा है. इसका मतलब है कि राजनीति में कुछ भी हो सकता है.’

‘हम सभी सीटों पर मजबूती से लड़ेंगे’

भारत जोड़ो न्याय यात्रा को लेकर जयराम रमेश ने कहा, ‘यह एक वैचारिक यात्रा है, राजनीतिक यात्रा नहीं. चुनाव के लिए हमें जो तैयारी करनी है वह चल रही है. हम सभी सीटों पर मजबूती से लड़ेंगे. जहां हम अपने दम पर लड़ रहे हैं, वहां अपने दम पर लड़ेंगे और जहां गठबंधन के तहत लड़ रहे हैं, वहां गठबंधन को मजबूत करेंगे. 2024 के चुनाव का नतीजा निश्चित नहीं है.’