Israel Hamas War : इजरायली सेना ने हमास के काले कारनामों को उजागर किया, अल-शिफा अस्पताल के अंदर बंधकों का वीडियो आया सामने

नई दिल्ली: इजरायल और हमास के बीच एक महीने से ज्यादा समय से चल रही जंग अब निर्णायक मोड़ पर है। इजरायली सेना अब गाजा में हमास को खत्म करने के लिए जमीनी अभियान चला रही है। इस बीच इजरायली सेना गाजा के सबसे बड़े अस्पताल अल-शिफा में अपना जांच अभियान चला रही है, जहां से वह कई बड़े खुलासे भी कर रही है.

हॉस्पिटल की फुटेज आई सामने

इजरायली सेना ने फुटेज जारी कर दावा किया है कि 7 अक्टूबर को दक्षिणी इजरायल में हमास आतंकवादियों द्वारा किए गए एक आश्चर्यजनक हमले के दौरान इजरायली लोगों का अपहरण कर लिया गया और उन्हें गाजा शहर के अल-शिफा अस्पताल में लाया गया।

बंधकों को अस्पताल में रखने का दावा

सेना की ओर से जारी वीडियो क्लिप में 7 अक्टूबर की सुबह 10.53 बजे का समय दिख रहा है. इसमें शॉर्ट्स और हल्के नीले रंग की शर्ट पहने एक व्यक्ति को पांच लोग घसीटते हुए अस्पताल की ओर ले जा रहे हैं, जिनमें से तीन हथियारबंद हैं।

इजराइली सेना ने दावा किया कि हमास के आतंकियों ने अस्पताल में बंधकों को छिपा रखा था, जिन पर हमला भी किया गया.

आईडीएफ ने कहा कि यह निष्कर्ष निकला है कि हमास आतंकवादी संगठन ने शिफा अस्पताल को आतंकवादी बुनियादी ढांचे के रूप में इस्तेमाल किया और 7 अक्टूबर के नरसंहार के दिन इसे कमांड सेंटर के रूप में बनाए रखा।

फिलिस्तीन के 13,000 लोग मारे गए

दूसरी ओर, हमास और मेडिकल स्टाफ ने इस बात से इनकार किया कि अस्पताल के अंदर कोई कमांड सेंटर था। सीसीटीवी फुटेज से पता चलता है कि सुबह-सुबह हमास के बंदूकधारियों ने दक्षिणी इज़राइल पर हमला करना शुरू कर दिया, जिसमें लगभग 1,200 लोग मारे गए।

हालाँकि, उसके बाद से इज़रायल हमास पर लगातार हमले कर रहा है। इजराइल गाजा पर हवाई और जमीनी हमले कर रहा है जिसमें 13,000 फिलिस्तीनी मारे गए हैं।