मासिक धर्म टालने के लिए गोलियां लेना सही है या गलत?

524068-is-it-okay-to-get-pills-during-menstrual-period-know-the-details-women-health-news

मुंबई : मासिक धर्म वह दर्द है जो हर महिला को याद रहता है। लाखों महिलाएं मासिक धर्म के दर्द की शिकायत करती हैं। इस समस्या से निजात पाने के लिए महिलाएं कई तरह की गोलियां लेती हैं। (मासिक धर्म दर्द की गोलियाँ) कभी-कभी मासिक धर्म को स्थगित करने के लिए गोलियां ली जाती हैं। (मासिक धर्म की देरी की गोलियां) लेकिन हर कोई नहीं जानता कि उस गोली का इस्तेमाल कब और कैसे करना है। इतना ही नहीं, इन गोलियों का शरीर पर क्या असर होता है, यह कोई नहीं जानता। 

 

मासिक धर्म के दौरान इस्तेमाल की जाने वाली गोलियों का असर महिलाओं के शरीर पर पड़ता है। महिलाओं के शरीर में एस्ट्रोजन और प्रोजेस्ट्रोन नामक दो हार्मोन होते हैं। मासिक धर्म चक्र इसी पर आधारित है। मासिक धर्म में देरी के लिए इन हार्मोनों को लेना पड़ता है। ये गोलियां हार्मोन के नियमित चक्र को प्रभावित करती हैं। प्राकृतिक मासिक धर्म के साथ आगे-पीछे जाने से भी आपके शरीर पर कई बुरे प्रभाव पड़ सकते हैं। एक महिला द्वारा इन हार्मोनों के लगातार अत्यधिक सेवन से ब्रेन स्ट्रोक, लकवा, दौरे जैसे कई मामले देखने को मिलते हैं। महिलाएं इन गोलियों का सेवन दस से पंद्रह दिनों तक अपने मासिक धर्म को लम्बा करने के लिए करती रहती हैं। इसकी अधिक मात्रा होने के कारण इसका प्रभाव बहुत खतरनाक होता है। (क्या मासिक धर्म के दौरान गोलियां लेना ठीक है, जानिए विवरण महिलाओं के स्वास्थ्य समाचार) 

कई बार महिलाएं इन गोलियों को लेने से पहले डॉक्टर से नहीं पूछती हैं। ये टैबलेट मेडिकल स्टोर पर आसानी से मिल जाते हैं। इसलिए महिलाएं जब भी मन करे गोलियां ले लेती हैं। लेकिन इन गोलियों को लेने वाले मरीज के बारे में सब कुछ जानना जरूरी है। विशेषज्ञों का कहना है कि अगर कोई महिला माइग्रेन से पीड़ित है या पहले स्ट्रोक हुआ है, उच्च या निम्न रक्तचाप है, अधिक वजन है, तो ये गोलियां उस महिला के लिए समस्या पैदा कर सकती हैं। 

Check Also

7-15

पीसीओडी और पीसीओएस का अचूक इलाज, कोई साइड इफेक्ट नहीं

पीसीओडी पीसीओएस हेल्थ टिप्स: पीसीओडी और पीसीओएस आज महिलाओं के जीवन की सबसे बड़ी बीमारियां हैं । इससे …