ज्योतिष परिचय और वास्तुशास्त्रीय पाठ्यक्रम का शुभारंभ

जम्मू , 19 नवंबर (हि.स.)। केन्द्रीय संस्कृत विश्वविद्यालय, श्रीरणवीर परिसर जम्मू के ज्योतिष विभाग ने चातुर्मासिक ज्योतिष परिचय पाठ्यक्रम एवं वास्तु शास्त्रीय परिचय पाठ्यक्रम का शुभारंभ हुआ। इस अवसर पर आयोजित बैठक में मुख्यातिथि जम्मू के कृषिनिदेशक, के.के शर्मा थे। दोनों परिचय पाठ्यक्रमों के पाठ्य बिन्दुओं का संक्षिप्त परिचय देते हुए बताया गया कि इसके अन्तर्गत ज्योतिष शास्त्र के मूलभूत सिद्धान्त जैसे पञ्चांग देखना, जन्मपत्रिका निर्माण, जन्मपत्रिका विश्लेषण, विवाह मेलापक आदि विषयों का अध्यापन करवाया जाएगा। इसी प्रकार वास्तुशास्त्र के मूल भूत सिद्धान्त जैसे भूमि विचार, भवन विचार, सम-सामायिकवास्तु, वास्तु दोष आदि विषयों का अध्यापन करवाया जाएगा।

बताते चले कि पाठ्यक्रम में 25 से अधिक विद्यार्थियों ने प्रवेश लिया है। विद्यर्थियों के लिए सांयकालीन कक्षाओं में अध्ययन करवाया जाएगा। कार्यक्रम की अध्यक्षता परिसर के निदेशक, प्रो मदनमोहन झा ने की। उन्होंने कहा कि ज्ञान के इच्छुक व्यक्ति के लिए कोई भी शिक्षण संस्थान दूर नहीं है। जब तक आध्यात्मिक चेतना है तब तक यह देश सुरक्षित है, अतः ऐसे पाठ्यक्रम चलाए जाने चाहिए। उन्होंने कहा कि कर्मकाण्ड एवं पौरोहित्य विषय में परिचय पाठ्यक्रम चलाने का भी विचार चल रहा है।

Check Also

पॉलीग्राफ टेस्ट में हत्यारे आफताब का कबूलनामा, मैंने श्रद्धा को मारा- मुझे कोई मलाल नहीं

दिल्ली के महरौली के विवादित श्रद्धा हत्याकांड में एक बड़ी जानकारी सामने आई है . पॉलीग्राफ टेस्ट के …