नागपुर में अंतरराष्ट्रीय सेक्स रैकेट का भंडाफोड़, दो विदेशी लड़कियां गिरफ्तार

523688-nagpur

नागपुर : पुलिस ने अंतरराष्ट्रीय सेक्स रैकेट का भंडाफोड़ कर दो युवतियों समेत तीन लोगों को गिरफ्तार किया है. खुलासा हुआ है कि वेश्यावृत्ति के लिए लाई गई दोनों युवतियों की राष्ट्रीयता उज्बेकिस्तान है। पहली नजर में पुलिस को गुप्त सूचना मिली कि वह फर्जी भारतीय पहचान पत्र की मदद से नागपुर के एक नामी होटल में रह रहा है। इसके आधार पर सामाजिक सुरक्षा विभाग ने होटल में छापा मारकर दोनों युवतियों को हिरासत में लेकर जांच शुरू कर दी है. पता चला है कि इसमें अंतरराष्ट्रीय सेक्स ट्रैफिकिंग गैंग सक्रिय है। 

नागपुर पुलिस को सूचना मिली कि दो विदेशी युवक एक स्थानीय व्यक्ति के नाम से बुकिंग कराकर नागपुर के सदर इलाके के एक नामी होटल में ठहरे हुए हैं. इस मामले में पूछताछ करने पर युवती के पास से आधार कार्ड, पैन कार्ड और ट्रांसपोर्ट परमिट वाला भारतीय पहचान पत्र मिला। पुलिस ने मामले की गहराई से जांच की। पुलिस को पता चला कि इन दोनों युवतियों को वेश्यावृत्ति के लिए किसी दलाल के जरिए नागपुर लाया गया था। तीन लोगों को गिरफ्तार किया गया है। लड़की का पहचान पत्र असली है या नकली। 

मोबाइल फोन में मिला वेश्यावृत्ति से जुड़े आपत्तिजनक आंकड़े 

23 सितंबर को नागपुर में एक अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट मैच हो रहा है। इस पृष्ठभूमि में कई विदेशी नागरिक भी इस मैच को देखने नागपुर पहुंचेंगे। साथ ही जांच के दौरान लड़की के मोबाइल फोन में देह व्यापार से जुड़ी कुछ आपत्तिजनक जानकारियां भी मिलीं। इसलिए पुलिस को आश्वासन मिला कि इन युवतियों को वेश्यावृत्ति के लिए लाया गया था। 

 

अंतरराष्ट्रीय सेक्स रैकेट का होगा पर्दाफाश

पुलिस को अहम जानकारी मिली थी कि इन दोनों विदेशी लड़कियों के जरिए सेक्स ट्रैफिकिंग के लिए एक अंतरराष्ट्रीय रैकेट सक्रिय है. इस जांच में यह बात सामने आई है कि दिल्ली में लड़की के साथियों के पास उसका पासपोर्ट है। यह भी पता चला कि कुछ अन्य युवतियां इस तरह से फर्जी भारतीय पहचान पत्र बना रही थीं, जब उनका वीजा समाप्त हो गया था। इस युवती के खिलाफ फर्जी पहचान पत्र बनाने का मामला दर्ज किया गया था. साथ ही तीन स्थानीय लोगों को गिरफ्तार कर उनके खिलाफ वेश्यावृत्ति का मामला दर्ज किया गया है. इसलिए अगले कुछ दिनों में अंतरराष्ट्रीय सेक्स रैकेट नेटवर्क की गहराई का खुलासा होने की उम्मीद है।

Check Also

content_image_0cb5de9f-32ca-41b6-b112-b7fc92d23ca6

असम: वन्यजीव संरक्षण अधिनियम के उल्लंघन का आरोप लगाते हुए मुख्यमंत्री शर्मा और सद्गुरु के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज

असम की मुख्यमंत्री हिम्मत बिस्वा शर्मा और सद्गुरु समेत अन्य के खिलाफ पुलिस में शिकायत …