‘लव जिहाद’ के आरोपों के बाद अंतर-धार्मिक जोड़े ने श्रद्धा वॉकर के गृहनगर में शादी का रिसेप्शन रद्द किया

मुंबई: महाराष्ट्र के वसई शहर में एक नवविवाहित हिंदू-मुस्लिम जोड़े का रिसेप्शन श्रद्धा वॉकर की हत्या के बाद स्थानीय संगठनों के विरोध के बाद रद्द कर दिया गया . पुलिस ने शनिवार को यह जानकारी दी. वॉकर (27) और उसका लिव-इन पार्टनर आफताब पूनावाला, जिसे इस साल मई में उसकी नृशंस हत्या करने के आरोप में गिरफ्तार किया गया था, मुंबई के पास पालघर जिले के वसई के रहने वाले थे।

एक समाचार चैनल के संपादक ने शुक्रवार सुबह रिसेप्शन आमंत्रण की एक तस्वीर ट्वीट की और हैशटैग ‘लवजिहाद’ और ‘एक्टऑफ टेररिज्म’ का इस्तेमाल करते हुए इसे वॉकर हत्याकांड से जोड़ दिया। एक स्थानीय पुलिस अधिकारी ने बताया कि यह कार्यक्रम रविवार शाम को वसई पश्चिम इलाके के एक हॉल में होना था।

आर

(शादी के रिसेप्शन कार्ड का स्क्रीनशॉट)

अधिकारी ने कहा कि ट्वीट के वायरल होने के बाद, वसई में स्थानीय हिंदू और मुस्लिम संगठनों ने हॉल के मालिक को फोन किया और क्षेत्र में शांति के लिए कार्यक्रम रद्द करने को कहा। उन्होंने कहा कि दंपति के परिवार वालों ने शनिवार को मानिकपुर पुलिस थाने का दौरा किया और बताया कि रिसेप्शन पर रोक लगा दी गई है।

अधिकारी ने कहा कि महिला, जो हिंदू है, 29 साल की है, जबकि उसका पति, एक मुस्लिम, 32 साल का है और दोनों पिछले 11 सालों से एक-दूसरे को जानते हैं। दोनों परिवारों के सदस्यों ने उनके रिश्ते का समर्थन किया और जोड़े ने 17 नवंबर को एक अदालत में एक पंजीकृत विवाह किया। उन्होंने पुलिस को बताया कि रविवार को रिसेप्शन में लगभग 200 मेहमानों के आने की उम्मीद थी।

अधिकारी ने कहा कि इस मामले में तथाकथित लव जिहाद का कोई एंगल नहीं है। ‘लव जिहाद’ कुछ दक्षिणपंथी संगठनों के आरोपों को संदर्भित करता है कि हिंदू महिलाओं से शादी करके उन्हें इस्लाम में परिवर्तित करने की साजिश मौजूद है।

Check Also

शिंदे सरकार के खिलाफ 17 दिसंबर को महाविकास अघाड़ी का महा मार्च

मुंबई: छत्रपति शिवाजी महाराज और महाराष्ट्र-कर्नाटक सीमा मुद्दे को लेकर भाजपा के लगातार अपमानजनक बयान …