कठुआ जेल के क़ैदियों ने किया योगा

कठुआ, 21 जून (हि.स.)। 8वें अन्तर्राष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पर आयुर्वेद व योग चिकित्सक डा. गुरू शर्मा ने विभिन्न सरकारी व ग़ैर सरकारी संस्थाओं में योग के बारे में जागरूक करते हुए योग की महत्वता, योग की परिभाषा व आधुनिक परिप्रेक्ष्य में योग को नियमित दिनचर्या का अभिन्न अंग बनाने के लिए प्रेरित किया।

डा. गुरू शर्मा ने ज़िला जेल कठुआ में जेल अधीक्षक कौशल कुमार की उपस्थिति में जेल के क़ैदियों को योग करवाया व आसन और प्राणायाम के बारे में विस्तार से जानकारी प्रदान करते हुए तनाव से मुक्त रहने के गुर सिखाए। डा. शर्मा ने ताड़ासन, वृक्षासन, भुजंगासन, वक्रासन, वज्रासन, शवासन, शलभासन आदि आसनों का अभ्यास करवाते हुए कपालभाति क्रिया, नाड़ी शुद्दि प्राणायाम, भ्रामरी प्राणायाम आदि के लाभ के बारे में विस्तार से जानकारी प्रदान करते हुए उनका अभ्यास करवाया। इसी प्रकार डा. गुरू शर्मा ने योग दिवस के अवसर पर आई.टी.आई हीरानगर में भी विशेष योग सत्र का आयोजन किया जिसमें विद्यार्थियों व स्टाफ़ को योग के बारे में विस्तारपूर्वक जानकारी प्रदान करते हुए योग का अभ्यास करवाया। डा. गुरू ने कहा कि वर्तमान समय में योग ने अपनी उपयोगिता साबित की है व योग का नियमित व अनुशासित पालन स्वस्थ जीवन का आधार है।

Check Also

चावल की खेती : अब बाढ़ के पानी में बचेगी धान की फसल, जानें ‘सह्याद्री पंचमुखी’ किस्म के बारे में

धान की बाढ़ प्रतिरोधी किस्म: वर्तमान में किसान विभिन्न संकटों का सामना कर रहे हैं। कभी असमानी तो कभी …