महागठबंधन में घमासान: शिवानंद ने मांझी को कहा- छपास का मरीज, जवाब आया- बुझे हुए कारतूस

आरजेडी के वरिष्ठ नेता शिवानंद तिवारी ने बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी को छपास का मरीज़ बताते हुए साफ कर दिया है कि बिहार में आरजेडी ही गठबंधन का नेतृत्व करेगी. दरअसल, जीतनराम मांझी, उपेंद्र कुशवाहा और मुकेश साहनी की प्रशांत किशोर के साथ हुई दिल्ली में मुलाकात के बाद गठबंधन में घमासान मचा हुआ है.

शिवानंद तिवारी ने मांझी पर हमला करते हुए कहा कि मांझी छपास की बीमारी से ग्रसित हैं. मांझी हमेशा कुछ वैसा करते रहते हैं जिससे अखबारों में आ जाएं. मांझी ऐसा व्यवहार करते हैं, जैसे लोग राजनीति में नए नए आने के बाद करते हैं. मांझी पर सख्ती दिखाते हुए शिवानन्द तिवारी ने कहा कि मांझी को समझ लेना चाहिए कि बिहार में गठबंधन का नेतृत्व आरजेडी ही करेगी.

बिहार विधानसभा चुनाव जैसे जैसे नजदीक आता जा रहा है, बिहार के महागठबंधन में आपसी तकरार बढ़ने लगी है. जीतनराम मांझी और प्रशांत किशोर के साथ मुलाकात को आरजेडी और कांग्रेस दोनों ने महागठबंधन को कमजोर करने वाला बताया है. कांग्रेस प्रवक्ता राजेश राठौर ने कहा कि मांझी क्या करना चाहते हैं पता नही. जीतनराम मांझी के ऐसे कदमों से गठबंधन कमजोर होगा.

बहरहाल, शिवानंद तिवारी के जीतनराम मांझी पर हमले के बाद ‘हम’ ने भी पलटवार करते हुए उन्हें संन्यास लेने की सलाह दे डाली. ‘हम’ के राष्ट्रीय प्रवक्ता दानिश रिजवान ने कहा कि शिवानन्द तिवारी राजनीति के बुझे हुए कारतूस हैं. दानिश रिज़वान ने कहा कि शिवानन्द तिवारी के कारण ही आज लालू प्रसाद जेल में हैं. शिवानंद तिवारी को राजनीति से संन्यास ले लेना चाहिए.

Check Also

ब्यूटीपार्लर संचालिका ने बात करना बंद किया तो दरांते से गला रेतकर हत्या की

पाॅश काॅलोनी सैटेलाइट टाउनशिप में रात 8 बजे वारदात   इंदौर. पाॅश काॅलोनी सैटेलाइट टाउनशिप …