छोटा उदयपुर : शौचालय घोटाले में पनवड़ गांव के सरपंच इंद्रसिंह राठवा निलंबित

sarpanch.JPG

छोटा उदयपुर शौचालय घोटाला मामले में पनवड़ गांव के सरपंच को निलंबित कर दिया गया है. पनवड़ गांव में शौचालय निर्माण में सरपंच ने घोटाला किया है . इंद्रसिंह राठवा को निलंबित कर दिया गया है और तलाटी के खिलाफ विभागीय जांच शुरू कर दी गई है। स्वच्छ भारत मिशन के दो कर्मचारियों को भी राहत दी गई है। ग्रामीणों ने डीडीओ से शिकायत कर जांच की मांग की है। 54 अधूरे शौचालय व 64 अधूरे शौचालयों को सरपंच ने कलेक्ट किया। जिले की दो ग्राम पंचायत कुकरदा व पनवाड़ सरपंचों के खिलाफ कदाचार की शिकायत जिला विकास अधिकारी से की गयी थी. इस शिकायत के आधार पर जांच में पता चला है कि दोनों सरपंचों ने कदाचार किया है. इसको लेकर जिला विकास अधिकारी ने दोनों सरपंचों को निलंबित करने के आदेश दिए हैं.

शौचालय घोटाला क्या है?

पनवड़ ग्राम पंचायत में स्वच्छ भारत मिशन के तहत शौचालयों में बड़े पैमाने पर गड़बड़ी की शिकायत मिली थी. जिसमें वर्ष 2020-21 में 308 शौचालयों में से 190 का निर्माण पाया गया। इनमें से 54 का निर्माण नियमानुसार नहीं हुआ है। भले ही 64 शौचालयों के निर्माण के लिए अभी भी गड्ढे की छतों जैसे काम की आवश्यकता थी, लेकिन लाभार्थियों को धन का भुगतान किया गया और धन का गबन किया गया। इसको लेकर पनवड़ ग्राम पंचायत के सरपंच इंद्रसिंह आर राठवा को तत्काल प्रभाव से सरपंच पद से हटा दिया गया है. साथ ही तलाटी हरिजीत सिंह बी पटेलिया के खिलाफ विभागीय जांच भी कराई गई है। इसके साथ ही क्वांट तालुका पंचायत के क्लस्टर समन्वयक शकुंतबेन और तकनीकी सहायक सलमान मंसूरी ने काम पूरा होते दिखाकर कदाचार किया.

Check Also

supreme court 26 sep_ 2022...._739

पीएमओ का सुप्रीम कोर्ट में हलफनामा, आईएफएस अफसर संजीव चतुर्वेदी ने दबाव बनाने के लिए मांगा कार्रवाई का ब्योरा

नई दिल्ली, 26 सितंबर (हि.स.)। प्रधानमंत्री कार्यालय (पीएमओ) ने कहा कि भारतीय वन सेवा के …