भारत के विदेशी मुद्रा भंडार में 1.581 अरब अमेरिकी डॉलर की गिरावट 

नई दिल्ली: भारत का विदेशी मुद्रा भंडार 23 जुलाई को समाप्त सप्ताह में 1.581 अरब डॉलर घटकर 611.149 अरब डॉलर रह गया है। शुक्रवार को आरबीआई ने यह आंकड़े जारी किए है। 16 जुलाई, 2021 को समाप्त पिछले सप्ताह में 835 मिलियन अमरीकी डॉलर की वृद्धि के बाद भंडार 612. 730 बिलियन अमरीकी डॉलर के अपने उच्चतम स्तर पर पहुंच गया था।

भारतीय रिजर्व बैंक RBI) के साप्ताहिक आंकड़ों के अनुसार, समीक्षाधीन सप्ताह में भंडार में गिरावट मुख्य रूप से विदेशी मुद्रा परिसंपत्तियों FCA) में गिरावट के कारण हुई, जो समग्र भंडार का एक प्रमुख घटक है। एफसीए 1.12 अरब डॉलर की गिरावट के साथ 567.628 अरब डॉलर रहा। डॉलर के संदर्भ में व्यक्त, विदेशी मुद्रा परिसंपत्तियों में विदेशी मुद्रा भंडार में रखे गए यूरो, पाउंड और येन जैसी गैर-अमेरिकी इकाइयों की सराहना या मूल्यह्रास का प्रभाव शामिल है।

समीक्षाधीन सप्ताह में सोने का भंडार 449 मिलियन अमरीकी डॉलर घटकर 36.884 बिलियन अमरीकी डॉलर हो गया। अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष आईएमएफ) के साथ विशेष आहरण अधिकार एसडीआर) 3 मिलियन अमरीकी डॉलर घटकर 1.546 बिलियन अमरीकी डॉलर हो गया। आंकड़ों के अनुसार, आईएमएफ के साथ देश की आरक्षित स्थिति भी समीक्षाधीन सप्ताह में 90 लाख अमेरिकी डॉलर घटकर 5.091 अरब अमेरिकी डॉलर रह गई।

Check Also

किसानों को 4000 रुपए पाने का सुनहरा मौका, जल्द करें रजिस्ट्रेशन

देश के लाखों किसानों के लिए अच्छी खबर है। केंद्र सरकार ने कृषकों के लिए …