Indian Railways: रेलवे के इस ड‍िव‍िजन ने माल ढुलाई में बनाया र‍िकॉर्ड, प‍िछले साल के मुकाबले र‍िकॉर्ड तोड़ क‍िया लदान

नई द‍िल्‍ली. कोरोना संक्रमण (Corona Virus) की वजह से ट्रेनों (Trains) को आवागमन लगातार प्रभाव‍ित होता रहा है. इसकी वजह से बड़ी संख्‍या में लंबे समय तक ट्रेनों को कैंस‍िल (Trains Cancelled) भी रखना पड़ा है और अभी तक पूरी तरह से ट्रेनें पटरी पर नहीं दौड़ रही हैं.

कोरोना का प्रकोप एक बार फ‍िर बढ़ने लगा है. लेक‍िन भारतीय रेलवे (Indian Railways) की ओर से राजस्‍व नुकसान की भरपाई के ल‍िए ज्‍यादा से ज्‍यादा माल ढुलाई को गुड्स ट्रेनों (Goods Trains) के संचालन पर जोर दे रही है. सभी रेलवे जोन (Railway Zone) अपने मंडलों के अधीनस्‍थ इसमें र‍िकॉर्ड भी बना रहे हैं.

 

नॉर्दन रेलवे के द‍िल्‍ली मंडल (Delhi Division) ने चालू व‍ित्‍तीय वर्ष में ब‍िजनेस डेवल्‍पमेंट यून‍िट (BDU) के तहत माल ढुलाई पर खास फोकस क‍िया है. व्यापार और उद्योग जगत के साथ निरंतर संपर्क और सार्थक संवादों के परिणामस्वरूप वर्तमान वित्तीय वर्ष 2021-22 में दिल्ली मंडल की माल ढुलाई (Freight) और माल ढुलाई से आय में वृद्धि दर्ज की गई है. मंडल ने एक द‍िन में सर्वाध‍िक माल ढुलाई कर भी र‍िकॉर्ड स्‍थाप‍ित क‍िया है.

दिल्ली मंडल ने 07 जनवरी, 2022 को 34 रेक और 1,318 वैगनों के एक दिन में अब तक की कंटेनर रेक की सर्वश्रेष्ठ लोडिंग हासिल की है, जो 23 जनवरी, 2021 को पिछले सर्वश्रेष्ठ 31 रेक और 1,316 वैगनों से ज्यादा है. इसमें तुगलकाबाद, गढ़ी हरसरू जंक्शन, पातली, पलवल, असावती, भोड़वाल माजरी, भैली, राजलू गढ़ी, दिवाना और मोहिउद्दीन पुर से लोड होने वाले कंटेनर रैक शामिल हैं.

Check Also

13 हजार का फोन सिर्फ 749 रुपए में पाएं

मुंबई: नया स्मार्टफोन खरीदने की चाहत रखने वालों के लिए बड़ी खबर है। फिलहाल फ्लिपकार्ट पर सेल …