भारतीय रेलवे ने खाने के मेन्यू में किया बड़ा बदलाव, कल से ट्रेन में मिलेंगे ये व्यंजन, जानिए विस्तार से

Indian Railways Food Menu: अगर आप भी अक्सर ट्रेन से सफर करते हैं तो रेलवे ने यात्रियों के लिए नई सुविधाएं पेश की हैं। रेलवे बोर्ड द्वारा शुरू की गई इन सुविधाओं को सुनकर आप भी खुशी से झूम उठेंगे। रेलवे बोर्ड ने ट्रेनों में मिलने वाले खाने के मेन्यू में बदलाव किया है। रेल यात्रियों को अब यात्रा के दौरान क्षेत्रीय व्यंजन परोसे जाएंगे। ये व्यंजन लिट्टी-चोखा से लेकर इडली-सांभर तक परोसे जाएंगे। इसके अलावा ट्रेन में यात्रा करने वाले जैन समुदाय के लोगों के लिए शुद्ध शाकाहारी भोजन उपलब्ध कराया जाएगा।

अब डायबिटीज से पीड़ित यात्रियों को भी ट्रेन में उबली सब्जियां और ओट्स परोसे जाएंगे. अंतरराष्ट्रीय साबुत अनाज वर्ष-2023 को देखते हुए रेलवे बोर्ड ने ट्रेनों में मिलने वाले खाने के मेन्यू में मोटे अनाज की आठ डिशेज को शामिल किया है. नए बदलाव के बाद ट्रेनों में बेबी फूड भी दिया जाएगा। रेलवे बोर्ड द्वारा जारी आदेश के मुताबिक, यह बदलाव कल यानी 26 फरवरी से भारत में राजधानी, शताब्दी, दुरंतो और वंदे की सभी प्रीमियम ट्रेनों में लागू होगा.

रेलवे बोर्ड ने तीन साल से ज्यादा समय के बाद ट्रेनों में मिलने वाले खाने के मेन्यू में बदलाव किया है। इससे पहले रेलवे ने 2019 में ट्रेनों के कैटरिंग मेन्यू में बदलाव किया था। रेलवे बोर्ड के अधिकारियों ने बताया कि कल से रेल यात्री ट्रेनों में यात्रा के दौरान लोकप्रिय क्षेत्रीय व्यंजनों का लुत्फ उठा सकेंगे. लिट्टी-चोखा, इडली-सांभर, डोसा, बड़ा पाव, पाव भाजी, भेलपुरी, खिचड़ी, जलमुड़ी, वेज-नॉन-वेज मोमोज, स्प्रिंग रोल आदि क्षेत्रीय व्यंजनों में शामिल हैं।

जैन समुदाय के यात्रियों को बिना प्याज और लहसुन का खाना परोसा जाएगा. यदि कोई व्यक्ति मधुमेह से पीड़ित है, तो वह उबली हुई सब्जियां, दूध-जई, दूध-मकई के गुच्छे, अंडे का सफेद आमलेट आदि ले सकता है। ट्रेन में शुगर फ्री चाय-कॉफी भी मिलेगी। दक्षिण भारतीय व्यंजनों के शौकीन यात्रियों को रागी लड्डू, रागी कचौरी, रागी इडली, रागी डोसा, रागी परांठा, रागी उपमा मिल जाएगा।

 

Check Also

RBI On Adani: वित्त मंत्री के बाद अब RBI ने अदानी ग्रुप विवाद पर दिया अहम बयान

RBI On Adani Group: अब भारत के सबसे बड़े बैंक रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया यानी आरबीआई …