Indian Currency: अगर आपके पास है 5 रुपये का यह नोट, तो आप हो सकते हैं मालामाल, जानिए- क्या है तरीका?

Indian Currency: अगर आपके पास यह पांच रुपये का पुराना नोट पड़ा है तो आपके पास बहुत ही सुंदर मौका आया है जिसमें आप घर बैठे ही उसके बदले काफी अधिक पैसे पा सकते हैं. सुनने में यह थोड़ा अटपटा लग सकता है कि पांच रुपये के बदले 30,000 रुपये कैसे मिल सकते हैं, लेकिन यह बात 100 प्रतिशत सच है. कुछ मिनटों में ही आप घर बैठे उसके बदले में इतनी बड़ी राशि पा सकते हैं. इसके लिए आपको कहीं जाने की जरूरत भी नहीं है. आप केवल दो वेबसाइट्स पर जा सकते हैं. वहां पर आपको यह जानकारी मिल जाएगी कि आपको किस वेबसाइट पर ज्यादा ऑफर मिल रहा है.

 

लेकिन इसके लिए कुछ शर्तें हैं. पांच रुपये के इस नोट में ट्रैक्टर छपा होना चाहिए. यह नोट रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया द्वारा जारी होना चाहिए. साथ ही इस पर 786 नंबर लिखा होना चाहिए.

 

अगर आपके पास इस फीचर वाला नोट है तो आप ऑनलाइन प्लेटफॉर्म पर जाकर उसकी बोली लगवा सकते हैं, जिसमें आपको कई गुना पैसा मिलने की पूरी संभावना है.

 

www.coinbazaar.com पर जाकर किस तरह से बेचें यह नोट

स्टेप-1

सबसे पहले आपको coinbazaar.com पर जाना होगा.

स्टेप-2

वेबसाइट पर एक विक्रेता के तौर पर रजिस्टर करना होगा.

स्टेप-3

अपने नोट का फोटो लेकर उसे वेबसाइट पर अपलोड कर दें.

स्टेप-4

जिन लोगों की उसमें रुचि होगी वे आपको खुद संपर्क करेंगे. उसके बाद आप उनसे बातचीत करके अपना नोट बेच सकते हैं.

अगर आपके पास एक रुपये का भी नोट है तो coinbazaar.com पर जाकर आप उसे बेचकर 45,000 रुपये कमा सकते हैं. हालांकि, उसके लिए यह शर्त है कि उस एक रुपये के नोट पर आरबीआई गवर्नर एपएम पटेल का हस्ताक्षर होना चाहिए और उसका नंबर 123456 होना चाहिए.

इस प्लेटफॉर्म पर एक रुपये वाले नोट की कीमत 49,999 रुपये ऑफर की जा रही है. हालांकि, छूट के बाद उसकी कीमत 44,999 रुपये रखी गई है.

आज के 26 साल पहले ही भारत सरकार की तरफ से एक रुपये के नोट की छपाई बंद की जा चुकी है. साल 2015 में इसकी छपाई फिर से शुरू की गई और एक रुपये का नोट फिर से मार्केट में प्रचलन में आ गया. हालांकि, बहुत से लोगों के पास एक रुपये के पुराने नोट पड़े रहते हैं, जिसे वेबसाइट पर जाकर बेचकर ज्यादा पैसे बना सकते हैं.

Check Also

मजबूती के साथ खुले बाजार

मुंबई :  वै‎श्विक बाजारों से ‎मिले अच्छे संकेतों की वजह से भारतीय शेयर बाजार गुरुवार …