शिक्षक नियुक्ति भ्रष्टाचार मामले में चेयरमैन को कोर्ट में हाजिर होने का आदेश

कोलकाता, 22 जून (हि.स.)। स्कूल सेवा आयोग (एसएससी) के जरिए शिक्षकों की नियुक्ति में हुई बड़े पैमाने पर धांधली मामले में अब चेयरमैन सिद्धार्थ मजुमदार को कोर्ट में हाजिर होने का निर्देश दिया गया है। बुधवार को सुनवाई के दौरान न्यायमूर्ति राजशेखर मंथा ने कहा कि गुरुवार को एसएससी चेयरमैन को सुबह 10:30 बजे कोर्ट पहुंचना होगा।

दरअसल 2016 में नौवीं और दसवीं श्रेणी में भूगोल के शिक्षक नियुक्ति में अनियमितता के आरोप लगे हैं। इसी बाबत हाई कोर्ट में सुनवाई चल रही है। एसएससी की ओर से इस मामले में रिपोर्ट गत सात जून के अंदर जमा देने को कहा गया था लेकिन ऐसा नहीं किया गया। जिसके बाद नाराज न्यायाधीश ने सिद्धार्थ मजुमदार को हाजिर होने को कहा है।

याचिकाकर्ताओं ने आरोप लगाया है कि 2016 में भूगोल शिक्षक के तौर पर जिन लोगों की नियुक्ति हुई उनमें से कई ऐसे हैं जिनके नंबर कम थे। सभी पास करने वाले लोगों के प्राप्तांक को सार्वजनिक करने की मांग की गई है। इस बाबत एसएससी के अधिवक्ता सूतनु पात्र ने कहा कि एसएससी के सर्वर रूम को सीबीआई ने अपनी हिरासत में लिया है। जब तक सीबीआई की अनुमति नहीं होगी तब तक नंबर को सार्वजनिक नहीं किया जा सकता। न्यायमूर्ति ने पूछा कि इस संबंध में उन्होंने सीबीआई को पत्र लिखा है या नहीं। इस पर अधिवक्ता स्पष्ट जवाब नहीं दे पाए। इसके बाद गुरुवार को सिद्धार्थ मजुमदार को कोर्ट में हाजिर होने का आदेश दिया गया है।

Check Also

चावल की खेती : अब बाढ़ के पानी में बचेगी धान की फसल, जानें ‘सह्याद्री पंचमुखी’ किस्म के बारे में

धान की बाढ़ प्रतिरोधी किस्म: वर्तमान में किसान विभिन्न संकटों का सामना कर रहे हैं। कभी असमानी तो कभी …