राजधानी रायपुर में शह-मात के खेल के महारथियों का महामुकाबला जारी

chesh_466

रायपुर, 22 सितंबर (हि.स.)। छत्तीसगढ़ में इन दिनों शह-मात के खेल के महारथियों का आमना-सामना हो रहा है। यहां छत्तीसगढ़ चीफ मिनिस्टर ट्रॉफी इंटरनेशनल ग्रैंडमास्टर्स चेस टूर्नामेंट में भारत के विभिन्न राज्यों समेत 15 देशों के 500 से अधिक शतरंज खिलाड़ी चेसबोर्ड पर अपने बौद्धिक कौशल का प्रदर्शन कर रहे हैं। यह स्पर्धा दो कैटेगरी में आयोजित हो रही है, जिसमें मास्टर्स कैटेगरी की स्पर्धा होटल ग्रेंड इम्पीरिया में और चैलेंजर्स कैटेगरी की स्पर्धा शगुन फॉर्म वीआईपी रोड रायपुर में खेली जा रही है। इसमें मास्टर्स कैटेगरी में 50 बोर्ड लाइव चलते हैं। वहीं इस कैटेगरी में 64 बोर्ड पर प्रतिदिन बिसात बिछती है। जबकि चैलेंजर्स कैटेगरी में रोजाना 120 से ज्यादा बोर्ड पर बिसात में शह-मात का खेल चल रहा है।

उल्लेखनीय है कि मुख्यमंत्री भूपेश के विजन के अनुरूप छत्तीसगढ़ी में विभिन्न खेलों को लेकर वातावरण तैयार किया जा रहा है। यहां लगातार राष्ट्रीय व अंतरराष्ट्रीय स्तर के अनेक खेल स्पर्धाएं आयोजित की जा रही हैं। इसी कड़ी में छत्तीसगढ़ चीफ मिनिस्टर ट्रॉफी इंटरनेशनल ग्रैंडमास्टर्स चेस टूर्नामेंट का आयोजन किया जा रहा है। यह आयोजन मुख्यमंत्री भूपेश बघेल और खेल मंत्री उमेश पटेल के निर्देश पर अखिल भारतीय शतरंज महासंघ, खेल एवं युवा कल्याण एवं छत्तीसगढ़ ओलंपिक एसोसिएशन के मार्गदर्शन व संरक्षण में छत्तीसगढ़ प्रदेश शतरंज संघ द्वारा हो रहा है। इस इंटरनेशनल टूर्नामेंट में हिस्सा लेने पहुंचे खिलाड़ियों में 16 ग्रैंड मास्टर, 27 इंटरनेशनल मास्टर, 03 वीमेन ग्रैंड मास्टर, 11 वीमेन इंटरनेशनल मास्टर, 14 फीडे मास्टर, 375 इंटरनेशनल रेटेड प्लेयर्स समेत अन्य वर्गों के खिलाड़ी शामिल हैं।

कुल 15 देशों से पहुंचे हैं शतरंज खिलाड़ी

छत्तीसगढ़ चीफ मिनिस्टर ट्रॉफी इंटरनेशनल ग्रैंडमास्टर्स चेस टूर्नामेंट में भारत के अनेक राज्यों के शतरंज खिलाड़ियों के साथ ही रूस, यूक्रेन, जॉर्जिया, यूएसए, कज़ाकिस्तान, मंगोलिया, पोलैंड, वियतनाम, कोलंबिया, ईरान, श्रीलंका, बांग्लादेश, जिम्बाब्वे व नेपाल से शतरंज के महारथी और खिलाड़ी पहुंचे हैं। चेस बोर्ड पर अपनी हर एक चाल से विश्व रेटिंग सुधारने की कोशिश इन खिलाड़ियों की है।

Check Also

AP22244197652068

लगातार बारिश के बाद इन राज्यों में सब्जियों की कीमतों में उछाल

नई दिल्ली: लगातार बारिश के कारण आपूर्ति की कमी के कारण हरियाणा, पंजाब और चंडीगढ़ में …