ऐसे में चांदी का इस्तेमाल करेंगे तो किस्मत चमकेगी, शरीर भी रहेगा निरोगी

धन प्राप्ति और शरीर को स्वस्थ रखने के लिए ऐसे करें चांदी का प्रयोग, जानिए क्या कहते हैं ज्योतिषी

धार्मिक दृष्टि से चांदी एक अत्यंत पवित्र और सात्विक धातु है। ऐसा माना जाता है कि इसकी उत्पत्ति भगवान शिव के नेत्रों से हुई थी। इसके अलावा ज्योतिष में भी चांदी का बहुत महत्व है। क्योंकि इसका संबंध शुक्र से है जो धन का कारक है और चंद्रमा जो मन का कारक है। चांदी शरीर के जल तत्व को नियंत्रित करती है। इसलिए रोजमर्रा की जिंदगी में चांदी का इतना महत्व है। तो आइए जानते हैं कि चांदी कैसे भाग्य को रोशन कर सकती है।

धन लाभ के लिए है खास: ज्योतिष के अनुसार चांदी दिमाग के साथ-साथ दिमाग को भी मजबूत करती है। चाँदी के दुष्प्रभाव को दूर करने में भी चाँदी लाभकारी होती है। चांदी भी शुक्र को मजबूत बनाती है।

धन प्राप्ति के लिए चांदी का प्रयोग ज्योतिष के अनुसार सबसे छोटी उंगली पर शुद्ध चांदी की अंगूठी पहनना सबसे अच्छा होता है। अशुभ चंद्रमा इसके प्रभाव से शुभ फल देने लगता है। साथ ही मन का संतुलन बेहतर होने लगता है और दृढ़ता भी प्राप्त होती है।

शरीर को स्वस्थ रखता है चांदी की शुद्ध अंगूठी पहनने से कफ, पित्त और वाणी पर नियंत्रण होता है। जो शरीर को स्वस्थ रखता है और जल्दी बीमार नहीं पड़ता।

पाप ग्रहों का प्रभाव होता है कम : शुद्ध चांदी की जंजीर को गंगाजल से शुद्ध करके गले में धारण करने से वाणी तेज होती है। साथ ही हार्मोन संतुलित रहते हैं। साथ ही मन एकाग्र रहता है।

चांदी के प्रयोग से सावधान रहें चांदी जितनी शुद्ध होगी, प्रभाव उतना ही अच्छा होगा। जिस किसी को भी इमोशनल प्रॉब्लम है उसे सिल्वर पहनने से बचना चाहिए। वृश्चिक, मीन और कर्क राशि वालों के लिए चांदी पहनना शुभ होता है। जबकि चांदी सिंह, धनु और मेष राशि के लिए उपयुक्त नहीं है।

Check Also

कमाई और बचत के लिए पैसे रखना याद रखें

मुंबई: जिंदगी में हर किसी को पैसे की जरूरत होती है. पैसा कमाने के लिए हर कोई …