नरसिंहपुर : साउथ की फिल्मों में खुद को एक्ट्रेस बताने वाली डॉली चौरसिया के साथ धोखाधड़ी का मामला सामने आया है.  डॉली ने अपने चाचा और परिवार वालों पर पैतृक जमीन हड़पने के साथ ही फर्जी अकाउंट खुलवाकर लोन लेने का आरोप लगाया है. उनका दावा है कि इन फर्जी खातों से लाखों रुपये का ट्रांजेक्शन भी किया गया है. नरसिंहपुर एसपी विपुल श्रीवास्तव को शिकायत करने पहुंची शालू का कहना है कि फिल्म इंडस्ट्री में व्यस्त होने के चलते नरसिंहपुर में अपने पैतृक शहर गोटेगांव नहीं आ पाती थी. इसी वजह से अपनी मां को भी अपने साथ हैदराबाद और चेन्नई ले गईं. शालू का आरोप है कि वे यहां रह नहीं पाती और जब उनकी मां यहां नहीं रहीं. इस वजह से उनकी जमीन हड़पने की साजिश रची गयी.

शालू चौरसिया ने अपना ऑनस्क्रीन नाम डॉली शा बताया है. उनका कहना है कि मां के फर्जी साइन प्रॉपर्टी में नाम बदलने से लेकर यूनियन बैक और स्टेट बैंक में अकाउंट खुलने तक में उपयोग किए गए. यह सब किया उनके चाचा और चाची सहित पूरे परिवार ने. शालू के मुताबिक, उनकी मां के नाम पर खाते खोले गए. उस पर लोन लिया गया और पैसे चाचा के खाते में ट्रांसफर किए गए.

डॉली चौरसिया का कहना है कि यह साजिश साल 2017 से चल रहा है. जब 2021 में मामले की जानकारी लगी तब से अब तक शिकवा शिकायतें ही चल रही हैं. उन्होंने आरोप लगाया कि सारे मामलों में बैंक का भी सहयोग नहीं मिल सका, तो अब एसपी को शिकायत करने अपनी मां के साथ पहुंचीं .एसपी नरसिंहपुर विपुल श्रीवास्तव ने मामले की संवेदनशीलता को देखते हुए उच्च स्तरीय जांच के आदेश दे दिए हैं. डॉली का कहना है कि मां जिस वक्त यहां नहीं थीं, उसी समय प्रॉपर्टी में नाम बदल दिए गए. बैंक में फर्जी हस्ताक्षर से अकाउंट खुले हैं. इस मामले में बैंक से भी कुछ जानकारी नहीं मिली है. उनका आरोप है कि उनके चाचा ने यह सब किया है.परिवार के बाकि सदस्यों ने उनका साथ दिया.