जमीन विवाद में बीजेपी विधायक ने थाने में ही शिवसेना नेता पर 10 गोलियां चलाईं

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे की पार्टी के एक नेता को बीजेपी विधायक द्वारा थाने में ही गोली मारने का मामला सामने आया है. पुलिस ने इस मामले में बीजेपी विधायक समेत तीन लोगों को गिरफ्तार किया है. दोनों पक्षों के बीच जमीन विवाद चल रहा है. इसी क्रम में बीजेपी विधायक ने थाने में ही फायरिंग कर दी. उपमुख्यमंत्री देवेन्द्र फड़णवीस ने थाने में गोलीबारी की घटना की उच्चस्तरीय जांच के आदेश दिये हैं.

कल्याण पूर्व विधान सीट से एकनाथ शिंदे के नेतृत्व वाले शिवसेना नेता महेश गायकवाड़ और भाजपा विधायक गणपत गायकवाड़ के बीच भूमि विवाद चल रहा है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, कल्याण पूर्व में संपत्ति के मालिकाना हक को लेकर बीजेपी विधायक और शिवसेना नेता के बीच विवाद हो गया. 31 जनवरी को दोनों गुटों के बीच झगड़ा हो गया. इसके बाद शुक्रवार शाम को दोनों पक्ष उल्हासनगर हिल लाइन पुलिस स्टेशन में शिकायत दर्ज कराने पहुंचे. थाने में ही दोनों पक्षों के बीच विवाद हो गया। बीजेपी विधायक गणपत गायकवाड ने कल्याण शिव सेना इकाई के अध्यक्ष महेश गायकवाड और उनके साथियों पर गोली चला दी. गोली चलाने वाले बीजेपी विधायक को गिरफ्तार कर लिया गया. शिवसेना नेता को छह गोलियां लगीं.

फायरिंग का कोई अफसोस नहीं: बीजेपी विधायक

फायरिंग करने वाले बीजेपी विधायक गणपत गायकवाड़ ने गिरफ्तारी से पहले एक न्यूज चैनल से कहा कि अगर उनके बेटे को थाने में ही पीटा जा रहा है तो वह क्या कर सकते हैं? इसलिए उसने गोली चला दी. विधायक ने कहा, ‘मैंने खुद को गोली मार ली. मुझे किसी बात का अफसोस नहीं है.’