Jhalawar: जिले में कोरोना संक्रमितों की संख्या 450 के पार, प्रशासन और स्वास्थ्य महकमे में मचा हड़कंप

Jhalawar: राजस्थान के झालावाड़ जिले में देर रात एक बार फिर कोरोना संक्रमण का विस्फोट हुआ और 142 नए कोरोना पॉजिटिव रोगी सामने आए है. ऐसे में झालावाड़ जिले में एक्टिव संक्रमित रोगियों की संख्या भी 450 के पार पहुंच गई है. जानकारी देते हुए झालावाड़ सीएमएचओ डॉ साजिद खान ने बताया कि शुक्रवार को झालावाड़ मेडिकल कॉलेज की माइक्रोबायोलॉजी लैबोरेट्री में 1114 सैंपल जांचे गए थे जिसमें 142 सैंपल्स की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आई है. झालावाड़ शहर से 78 और झालरापाटन से 19 पॉजिटिव केस मिले है. वहीं 38 पॉजिटिव केस जिले के अन्य कस्बों के मिले है. जिले में अब एक्टिव संक्रमित रोगियों की संख्या 450 के पार पहुंच गई है.

देर शाम आई रिपोर्ट में झालरापाटन के इंजीनियरिंग कॉलेज हॉस्टल के 2 छात्र और संक्रमित मिले है. वहीं झालावाड़ मेडिकल कॉलेज के दो रेजिडेंट डॉक्टर्स की भी रिपोर्ट पॉजिटिव आई है. मेडिकल कॉलेज रेजिडेंट भी लगातार संक्रमित होते जा रहे.

राहत की बात, रिकवरी रेट बेहतर
संक्रमण की रफ्तार के बीच राहत की बात यह है कि जिस गति से संक्रमण की रफ्तार दिखाई दे रही वहीं संक्रमित रोगी रिकवर भी तेजी से हो रहे है. बीते 4 दिनों में 110 संक्रमित रोगी रिकवर हो चुके है और बहुत ही कम लोगों को हॉस्पिटलाइज किए जाने की नौबत आ रही है.

 

जागरुकता के साथ ही सख्ती भी बढ़ायी
झालावाड़ जिले में कोरोना संक्रमण तेज गति से बढ़ता जा रहा है ऐसे में जिला प्रशासन और स्वास्थ्य महकमे में हड़कंप मचा है. जहां एक ओर जिला प्रशासन द्वारा लगातार जागरुकता वाहन चलाए जा रहे और लोगों को गाइडलाइन पालना के लिए समझाइश की जा रही तो वहीं पुलिस विभाग द्वारा भी अब लापरवाह लोगों के खिलाफ सख्ती बरतते हुए चालानी कार्रवाई की जा रही है.

 

जिला कलेक्टर ने कहा- जिम्मेदारी समझे नागरिक 
जिला कलेक्टर हरिमोहन मीणा ने भी नागरिकों से अपील की है कि संक्रमण से खुद को और अपने परिवार को सुरक्षित रखने के लिए कोरोना गाइडलाइन की पालना करे. आवश्यक हो तो घरों से बाहर निकले और सोशल डिस्टेंसिंग, मास्क, सैनिटाइजर का निरंतर उपयोग करते रहे. 15 से 18 वर्ष के बच्चों और अन्य बीमारियों से ग्रसित अधिक आयु वर्ग के लोग भी बूस्टर डोज के लिए टीकाकरण केंद्रों पर पहुंचे. गाइडलाइन की पालना हेतु नागरिक अपनी जिम्मेदारी खुद समझें.

Check Also

26 जनवरी से पहले पुलवामा जैसे हमले का प्लान डिकोड, इनपुट के बाद यूं बना आंतिकयों के सफाए का प्लान

नई दिल्ली: देश की खुफिया एजेंसियों से मिली एक्सक्लूसिव (Exclusive) जानकारी के मुताबिक इस बार 26 …