भारतीय रेलवे: ट्रेन में किसी भी तरह की दिक्कत होने पर ‘रेल सहायता’ से मिलेगी मदद, टिकट बुकिंग की भी होगी सुविधा

20_09_2022-20_09_2022-rail_madad_9137083

भारतीय रेलवे यात्रा के दौरान यात्रियों की सुविधा के लिए लगातार प्रयास कर रहा है। अब यात्रा के दौरान किसी प्रकार की परेशानी होने पर आपको इधर-उधर भटकने की जरूरत नहीं है। रेल मंत्रालय ने यात्रियों की सहायता के लिए 24×7 मल्टी-चैनल ग्राहक सहायता सेवा ‘रेल मैदान’ शुरू की है।

इस सेवा को ऐप, वेबसाइट, ई-मेल, पोस्ट, सोशल मीडिया और हेल्पलाइन सेवा के माध्यम से एक्सेस किया जा सकता है।

रेल सहायता यात्री सहायता के लिए एक समर्पित चौबीसों घंटे मल्टी-चैनल इंटरफ़ेस है। यह सभी समस्याओं का एक एकीकृत समाधान प्रदान करता है। उपयोगकर्ताओं को एक वैध ईमेल आईडी या मोबाइल नंबर के साथ पोर्टल पर लॉग इन करना होगा। इसके बाद ओटीपी वेरिफिकेशन होता है और सर्विस शुरू हो जाती है।

पोर्टल शिकायतों की लाइव स्थिति को ट्रैक करेगा और साथ ही यात्रियों को समाधान प्रदान करेगा। ग्राहक उन पर अपनी प्रतिक्रिया भी दे सकेंगे। रेल हेल्प वेबसाइट के अनुसार, पोर्टल का उद्देश्य शिकायतों का त्वरित और संतोषजनक समाधान प्रदान करके यात्रियों के लिए यात्रा के अनुभव को बेहतर बनाना है।

यात्री ट्रेन की मदद से किसी भी ट्रेन की जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। इसके साथ ही टाइम टेबल और यात्री और पार्सल सेवाओं से जुड़ी जानकारी भी यहां उपलब्ध होगी। यात्री वेबसाइट के अलावा रेल हेल्प मोबाइल एप को गूगल प्ले स्टोर से भी डाउनलोड किया जा सकता है। एक तरह से ‘रेल-सहायता’ यात्रा के अलावा पार्सल से संबंधित सभी प्रश्नों के लिए सिंगल विंडो सुविधा है।

 

शिकायत दर्ज होने के बाद क्या होता है?

ट्रेन में सवार कर्मचारी यानी आरपीएफ एस्कॉर्ट, इलेक्ट्रिकल और हाउसकीपिंग को उनकी शिकायतों के लिए एसएमएस अलर्ट मिलते हैं।

टीटीई हर शिकायत पर अलर्ट रहता है।

प्रारंभिक कार्य डिवीजन कंट्रोल सेल को जाता है।

कंट्रोल रूम आपकी शिकायत पर नजर रखता है।

शिकायत दर्ज होने के बाद एक अद्वितीय पंजीकरण संख्या (आरआरएन) साझा की जाती है।

आरआरएन से शिकायत की स्थिति का पता लगाया जा सकता है।

एक बार शिकायत का समाधान हो जाने पर, शिकायतकर्ता को एक एसएमएस प्राप्त होता है, जहां वे शिकायत निवारण की गुणवत्ता का आकलन कर सकते हैं।

शिकायत दर्ज करने के अलावा, इसमें टिकट बुकिंग, ट्रेन पूछताछ, आरक्षण पूछताछ, रिटायरिंग रूम बुकिंग, यूटीएस टिकटिंग, माल ढुलाई पूछताछ शामिल है।

Check Also

26grandvitara1_870

मारुति सुजुकी ने ग्रैंड विटारा किया लॉन्च, शुरुआती कीमत 10.45 लाख रुपये

नई दिल्ली, 26 सितंबर (हि.स)। देश की सबसे बड़ी कार निर्माता कंपनी मारुति सुजुकी (एमएसआई) …