डिप्रेशन से बचना है तो रोज खाएं अखरोट

आज कल डिप्रेशन की बीमारी से ज्यादातर लोग ग्रसित है। ये आम बात हो है। इस भागदौड़ भरी जिंदगी में लोग दिमाग तौर पर कमजोर होने लगते है। जिससे लोगों को भूलने की बीमारी हो जाती है। डिप्रेशन बहुत ही खतरनाक बीमारी है, इसपर अमेरिका ने कई तरह के खुलासे किये हैं। शोध में पता चला है कि डिप्रेशन को खत्म करने के लिए अखरोट काफी फायदेमंद है। आपका बताते है अखरोट खाने के फायदे

अखरोट खाने से दिमाग तेज होता इससे जो हमे चीजों को भूल जाते थे। उसको याद रखने में काफी मदद मिलती है। डिप्रेशन से बचने के लिए कई उपायों की जरूरत है जैसे कि खानपान में बदलाव करना।

लेनोर अरब ने बताया कि अखरोट पर शोध पहले ह्रदय रोगों के संबंध में किया गया है और अब इसे अवसाद के लक्षण से संबद्ध कर देखा जा रहा है। इस अध्ययन में 26 हजार अमेरिकी वयस्कों को शामिल किया गया था।

प्रमुख शोधकर्ता लेनोर अरब ने एक अध्ययन का हवाला देते हुए कहा कि अध्ययन में शामिल किए गए 6 में से हर 1 व्यस्क जीवन में एक समय पर अवसाद आता है।

कैलिफोर्निया विश्वविद्यालय के शोधकर्ताओं ने अखरोट खाने वाले लोगों में अवसाद का स्तर 26 प्रतिशत कम पाया है। वहीं इस तरह की अन्य चीजें खाने वालों में भी अवसाद का स्तर 8 प्रतिशत कम पाया गया है।

अखरोट को पावर फूड का नाम दिया गया है क्योंकि यह स्टैमिना बढ़ाने में भी मदद करता हैं। इसे ब्रेन फूड भी कहा जाता है।

एक अमेरिकी संस्थान की रिसर्च की मानें तो विटामिन ई, ओमेगा 3 फैटी ऐसिड, ऐंटीऑक्सिडेंट्स का अच्छा स्त्रोत होने से दिमाग को रोज ऊर्जा मिलती है।

Check Also

घी वाली कॉफी से करें दिन की शुरुआत, फायदे इतने कि सोच भी नहीं सकते

नई दिल्‍ली: सुबह-सुबह कॉफी में घी डालकर पीने से कई फायदे मिलेंगे. इसमें मौजूद कैल्शियम, विटामिन, …