अगर पीपीएफ स्कीम में लगाया है पैसा तो सरकार ने दी खुशखबरी, नोट कर लें महीने की 5 तारीख

पब्लिक प्रोविडेंट फंड स्कीम: 5वीं… दरअसल, यह तारीख हर महीने आती है और काफी आम है। लेकिन पीपीएफ में खाता खुलवाने वालों के लिए यह तारीख बेहद अहम है. पब्लिक प्रोविडेंट फंड का 5वीं से क्या है कनेक्शन? अगर आप हर महीने की 5 तारीख को ध्यान में रखकर पैसा निवेश करेंगे तो आपको ज्यादा फायदा मिलेगा। यह जानकारी केंद्र सरकार ने दी है.

पीपीएफ योजना में ब्याज दरों की गणना मासिक आधार पर की जाती है। ब्याज की रकम वित्तीय वर्ष के अंत में मिलती है. आपके पीपीएफ खाते पर कितना ब्याज मिलेगा? इसकी गणना में 5 तारीख बहुत महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है।

5 तारीख से पहले करने पर मिलेगा अधिक ब्याज
अगर आप हर महीने की 5 तारीख और आखिरी तारीख, 30 या 31 तारीख के बीच अपने पीपीएफ खाते में सबसे कम बैलेंस पर ब्याज का भुगतान करते हैं। इस कारण आपको 5 तारीख से पहले रकम जमा कर देनी चाहिए, जिससे आपको ज्यादा ब्याज मिलेगा.

कितना मिलता है ब्याज?
पीपीएफ पर 7.1 फीसदी की दर से ब्याज मिलता है. महीने की 5 तारीख और महीने की आखिरी तारीख के बीच शेष किसी भी न्यूनतम शेष पर उसी महीने में ब्याज लगाया जाता है। 5 तारीख के बाद आप जो भी पैसा जमा करेंगे उस पर अगले महीने से ब्याज मिलेगा.

उदाहरण से समझें कितना मिलेगा ब्याज?
यदि आपने रु. का योगदान दिया है. 1.5 लाख का निवेश किया गया है. ऐसे में आपको 7.1 फीसदी की दर से कुल 10,650 रुपये ब्याज के रूप में मिलेंगे. वहीं, अगर आपने यह पैसा 6 अप्रैल या उसके बाद जमा किया है तो आपको केवल 11 महीने तक ही ब्याज मिलेगा। ऐसे में आपको ब्याज के तौर पर 9,763 रुपये मिलेंगे. इसका मतलब है कि आपको लगभग रु. 887 पर कम ब्याज मिलेगा.