एक ही व्यक्ति को कितनी बार संक्रमित कर सकता है ओमिक्रॉन वेरिएंट? डरा देगा जवाब

नई दिल्‍ली: Covid-19: देश में कोरोना (Corona) के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं. रोजाना सामने आ रहे मामलों की संख्‍या सवा तीन लाख के पार पहुंच गई है. इन बढ़ते मामलों के पीछे वजह कोरोनावायरस का ओमिक्रॉन वेरिएंट (Omicron Variant) है. यह ऐसा वेरिएंट है जो संक्रमण फैलाने के मामले में अब तक की सबसे ज्‍यादा तबाही मचाने वाले डेल्‍टा वेरिएंट से भी ज्‍यादा खतरनाक है. ओमिक्रॉन वेरिएंट के साथ सबसे बड़ी समस्‍या यह है कि यह आसानी से एंटीबॉडीज को चकमा दे देता है. फिर चाहे वे एंटीबॉडीज वैक्सिीनेशन के कारण बनी हों या पुराने कोरोना इंफेक्‍शन (Corona Infection) की हों.

एक ही व्‍यक्ति को कितनी बार कर सकता है संक्रमित 

कोरोनावायरस की पहली और दूसरी लहर में एक ही व्‍यक्ति को दो बार कोरोना संक्रमण होने के कई मामले सामने आए. यहां तक कि कई ऐसे मामले भी आए, जिनमें एक ही व्‍यक्ति को दो बार डेल्‍टा संक्रमण हुआ. अब सवाल यह है कि ओमिक्रॉन वेरिएंट किसी व्‍यक्ति को कितनी बार संक्रमित कर सकता है. खबरों के मुताबिक ओमिक्रॉन में दोबारा संक्रमण करने का जोखिम डेल्टा वेरिएंट की तुलना में 4 गुना ज्‍यादा है. ऐसे में एक ही व्‍यक्ति के 2 बार ओमिक्रॉन संक्रमित (Omicron Infection) होने की आशंका आसानी से बनती है.

 

चूंकि ओमिक्रॉन में एंटीबॉडीज को चकमा देने की क्षमता होती है इसलिए उन्‍हें दोबारा संक्रमित करना इस वेरिएंट के लिए बेहद आसान है. इसलिए वे लोग भी आसानी से संक्रमित हो रहे हैं, जिन्‍हें वैक्‍सीन के दोनों डोज लग चुके हैं या वे पहले भी कोरोना या ओमिक्रॉन संक्रमित हो चुके हैं.

ये हैं ओमिक्रॉन से बचाव के तरीके 

सरकार द्वारा जारी की गई सलाह के मुताबिक ओमिक्रॉन से बचने के लिए बेहतर है कि घर से कम से कम बाहर निकलें. जब भी बाहर निकलें डबल मास्‍क का उपयोग करें. बार-बार हाथों को सैनिटाइज करें. खाना खाने से पहले हाथों को अच्छी तरह से साबुन से धोएं. कोशिश करें कि अपनी आंखों, मुंह या चेहरे को बार-बार हाथ से न छुएं.

Check Also

अनचाहे तिल और मस्सों से छुटकारा पाने के लिए अपनाएं यह घरेलू नुस्खा

चेहरे पर अनचाहे तिल और मस्सों से छुटकारा पाने के लिए अपनाएं ये घरेलू उपाय। अगर …