Home Remedies For Cough: खांसते समय नहीं होगी थकान या सांस लेने में तकलीफ, खांसी से बचने के लिए अपनाएं ये घरेलू उपाय

खांसी के लिए DIY समाधान: खांसी और गले में खराश गले की सबसे आम समस्या है। काली खांसी एक प्रकार का संक्रमण है, जो ऊपरी श्वसन पथ में रुकावट के कारण होता है। मस्तिष्क रुकावट या समस्या को दूर करने के लिए शरीर को एक संकेत भेजता है, जिससे खांसी शुरू हो जाती है। खांसी गर्मी-सर्दी के अलावा वायरस संक्रमण, फ्लू, सर्दी के कारण भी होती है। वहीं कई गंभीर बीमारियों के कारण भी खांसी की समस्या हो जाती है। उदाहरण के लिए, अस्थमा, तपेदिक या फेफड़ों का कैंसर।

खांसी के लक्षण

खांसी आमतौर पर तुरंत शुरू नहीं होती। लेकिन इससे पहले गले में कुछ खास लक्षण दिखाई देने लगते हैं। पसंद करना…

  • खुजली
  • दर्द
  • बोलते समय गले में खराश होना
  • गले में खुरदरापन
  • गले में खराश और सूजन की समस्या
  • सीने में दर्द या जकड़न

खांसी के इलाज के लिए घरेलू उपचार

 

  • आपको किस प्रकार के घरेलू उपचार की आवश्यकता है यह खांसी के प्रकार पर निर्भर करता है। क्योंकि घरेलू नुस्खे बहुत असरदार होते हैं, लेकिन सही जानकारी के अभाव में लोग इन्हें गलत तरीके से इस्तेमाल करते हैं और फिर नुकसान के लिए घरेलू नुस्खों को जिम्मेदार ठहराते हैं।
  • खांसी के साथ कफ आए तो- अगर आपको खांसी के साथ कफ की समस्या है तो आपको दिन में दो से तीन बार गर्म पानी के साथ एक चौथाई चम्मच हल्दी का सेवन करना चाहिए.
  • हल्दी का प्रयोग – अगर आपको खांसी के रूप में सूखा कफ हो रहा है तो एक गिलास दूध में आधा चम्मच हल्दी मिलाकर दिन में दो बार (नाश्ते के दो घंटे बाद और रात के खाने के दो घंटे बाद) सेवन करें।
  • खांसी में अदरक का प्रयोग- अगर खांसी के साथ कफ भी आता है तो आप अदरक की चाय पी सकते हैं या अदरक के छोटे-छोटे टुकड़े टॉफी की तरह चबा सकते हैं. अगर सूखे कफ की समस्या है तो अदरक के रस में शहद मिलाकर सेवन करें। या फिर एक चौथाई पिसी हुई अदरक को एक चम्मच शहद के साथ मिलाकर खाएं।
  • मुलथी का प्रयोग – यदि खांसी सूखी हो तो मुलथी के चूर्ण को शहद में मिलाकर धीरे-धीरे चाटें। और अगर कफ के साथ फाइबर आ रहा हो तो मुल्तानी का एक छोटा टुकड़ा लें और उसे टॉफी की तरह चबाएं।