हिमाचल चुनाव परिणाम: प्रधानमंत्री मोदी ने इस उम्मीदवार को फोन कर दी चुनाव न लड़ने की सलाह, लेकिन लड़ गया चुनाव, देखिए अब क्या हुआ उस उम्मीदवार का

हिमाचल प्रदेश विधानसभा चुनाव और गुजरात विधानसभा चुनाव के लिए मतगणना आज सुबह से शुरू हो चुकी है। इस बीच कांग्रेस हिमाचल प्रदेश में सरकार बनाने की ओर बढ़ रही है। हिमाचल प्रदेश की 68 सीटों में से 39 सीटों पर कांग्रेस अपनी जगह बनाएगी यह तय लग रहा है। तब बीजेपी 26 सीटों पर आगे चल रही है और अन्य पार्टियों की बात करें तो 3 सीटों पर निर्दलीय का दबदबा है.

हिमाचल प्रदेश में उस वक्त भाजपा के बागी नेता कृपाल परमार की जमानत भी बचाना मुश्किल हो गया है, जो प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कहने पर भी मैदान से बाहर नहीं हुए. फतेहपुर विधानसभा सीट से मैदान में उतरे कृपाल परमार सुबह से ही पिछड़ रहे हैं और अगर उन्हें करारी हार मिल जाए तो आश्चर्य नहीं होगा. फतेहपुर सीट पर बीजेपी प्रत्याशी राकेश पठानिया और कांग्रेस प्रत्याशी भवानीसिंह पठानिया के बीच कड़ा मुकाबला देखने को मिल रहा है.

आपको बता दें कि फतेहपुर सीट से बीजेपी के मंत्री राकेश पठानिया को टिकट दिया गया था. इससे नाराज होकर कृपाल परमार फतेहपुर सीट से निर्दलीय प्रत्याशी के तौर पर मैदान में उतरे. भाजपा नेताओं ने उन्हें मनाने की काफी कोशिश की लेकिन वह अपनी बात पर अडिग रहे।

प्रधानमंत्री मोदी ने फोन किया

निर्दलीय प्रत्याशी के तौर पर मैदान में उतरने के बाद कृपाल परमार का एक वीडियो भी वायरल हुआ था, जिसमें दावा किया गया था कि प्रधानमंत्री मोदी ने खुद उन्हें फोन कर चुनाव न लड़ने को कहा था, लेकिन कृपाल परमार प्रधानमंत्री मोदी की बात नहीं मानते हुए चुनाव मैदान में उतरे. . प्रधानमंत्री मोदी से बातचीत के दौरान कृपाल परमार ने बीजेपी अध्यक्ष की शिकायत भी की.

डिपॉजिट बचाना भी मुश्किल है

किसी भी चुनाव में उम्मीदवार को अपनी जमानत बचाने के लिए कुल मतों का छठा हिस्सा यानी 16.6 फीसदी वोट हासिल करने होते हैं. फतेहपुर में अब तक 70 फीसदी से ज्यादा वोटों की गिनती हो चुकी है. फिलहाल कांग्रेस प्रत्याशी भवानीसिंह पठानिया आगे चल रहे हैं. उनके पीछे बीजेपी प्रत्याशी मंत्री राकेश पठानिया हैं.

Check Also

सर्जिकल स्ट्राइक: सर्जिकल स्ट्राइक पर उठे नए सवाल, सेना के शीर्ष अधिकारी बोले- ‘जब हम कोई ऑपरेशन करते हैं…’

RP Kalita On Surgical Strike:, “सेना कभी भी किसी ऑपरेशन को अंजाम देने के लिए …