दिल का स्वास्थ्य: अगर आप कार्डियक अरेस्ट से बचना चाहते हैं, तो आज से ही इन चीजों का त्याग करें

12-48

कार्डिएक अरेस्ट हेल्थ टिप्स: गलत खान-पान और गलत लाइफस्टाइल से दिल की बीमारी का खतरा बढ़ रहा है। जिसमें से कार्डियक अरेस्ट भी मौत का कारण बन गया है। यह हमला बिना किसी चेतावनी के होता है। हृदय में विद्युत तंत्रिका की खराबी से उत्पन्न कार्डियक अरेस्ट भी अनियमित दिल की धड़कन का कारण बनता है । इस बीमारी में दिल अचानक पंप करना बंद कर देता है। जिससे हृदय, मस्तिष्क, फेफड़े और अन्य अंगों की कार्यप्रणाली प्रभावित होती है। यदि कार्डियक अरेस्ट के रोगियों को उचित उपचार नहीं मिलता है, तो उनकी मृत्यु भी हो सकती है। आंकड़ों के मुताबिक, हर महीने कम से कम 2-3 हजार लोग हृदय रोग के कारण अपनी जान गंवाते हैं। तो आइए आपको बताते हैं कि यह बीमारी क्यों होती है और आप इससे कैसे बच सकते हैं।

कार्डिएक अरेस्ट क्यों होता है: कार्डिएक अरेस्ट एक बहुत ही खतरनाक बीमारी है। इस रोग में व्यक्ति का हृदय काम करना बंद कर देता है। इस रोग में यदि रोगी का समय पर उपचार न किया गया तो उसकी जान भी जा सकती है। यह समस्या हृदय प्रणाली में खराबी के कारण होती है। जब हृदय काम नहीं करता है तो शरीर में रक्त की आपूर्ति भी रुक जाती है। ऐसे में व्यक्ति को सांस लेने में भी दिक्कत होती है। मरीजों को सीने में तेज दर्द, चक्कर आना और धड़कन जैसी समस्याओं का अनुभव हो सकता है।

कार्डिएक अरेस्ट हेल्थ टिप्स
कार्डिएक अरेस्ट हेल्थ टिप्स

इन कारणों से कार्डियक अरेस्ट : विशेषज्ञों के अनुसार, आपकी जीवनशैली और आहार का हृदय स्वास्थ्य पर बहुत अधिक प्रभाव पड़ता है। जो लोग बहुत अधिक मांसाहारी भोजन करते हैं उनमें हृदय रोग का खतरा उन लोगों की तुलना में अधिक होता है जो शाकाहारी होते हैं और संतुलित मात्रा में मांस आदि का सेवन करते हैं। गलत खान-पान से हृदय रोग हो सकता है। इसलिए अगर आप दिल की बीमारियों से बचना चाहते हैं तो पहले से ही अपने खान-पान पर ध्यान दें।

ये खाद्य पदार्थ दिल की बीमारियों का कारण बन सकते हैं

वसा से भरपूर आहार : यदि आप अपने हृदय को स्वस्थ रखना चाहते हैं तो आपको ऐसी चीजों से बचना होगा जो शरीर में वसा की मात्रा को बढ़ा दें। अधिक वसा वाले खाद्य पदार्थ खाने से मधुमेह और हृदय रोग भी बढ़ सकते हैं। तैलीय-मसालेदार भोजन, पिज्जा, बर्गर, पास्ता, चिप्स, कुकीज, आटे से बने खाद्य पदार्थ शरीर में खराब कोलेस्ट्रॉल को बढ़ाते हैं। ये सभी चीजें आपको दिल से जुड़ी बीमारियों का कारण बन सकती हैं।

कार्डिएक अरेस्ट हेल्थ टिप्स
कार्डिएक अरेस्ट हेल्थ टिप्स

निकोटिन युक्त पदार्थ : निकोटिन के अत्यधिक सेवन से भी हाई ब्लड प्रेशर की समस्या बढ़ जाती है। यह धमनी रोगों को भी जन्म देता है। यह हृदय की धमनियों को चौड़ा करता है और रक्त की आपूर्ति में बाधा डालता है। इससे कई गंभीर बीमारियां होती हैं और हार्ट अटैक का खतरा बढ़ जाता है। सिगरेट, सिगार, ई-सिगरेट, हुक्का, तंबाकू जैसे उत्पादों में निकोटीन की मात्रा बहुत अधिक होती है। इसलिए इनका सेवन न करें।

मीठा : ज्यादा चीनी का सेवन भी सेहत के लिए हानिकारक हो सकता है। कोल्ड ड्रिंक्स, चॉकलेट और शुगर ड्रिंक्स का शरीर के सभी अंगों पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ता है।

शराब से बचें : शराब के सेवन से लीवर और हृदय रोग प्रभावित होते हैं। दिल को स्वस्थ रखने के लिए शराब, तंबाकू, सिगरेट जैसे नशीले पदार्थों से दूर रहना चाहिए। नशीली दवाओं के सेवन से कार्डियक अरेस्ट हो सकता है। साथ ही किसी भी नशे से दूर रहें।

ज्यादा नमक न खाएं : ज्यादा नमक का सेवन भी सेहत के लिए हानिकारक हो सकता है। ज्यादा नमक खाने से हाई ब्लड प्रेशर हो सकता है। विशेषज्ञों के अनुसार एक दिन में 6 ग्राम से ज्यादा नमक नहीं खाना चाहिए।

Check Also

दूध या पानी किससे दवाई लें ? जानिए वरना नुकसान होगा

शरीर से जुड़ी कोई न कोई बीमारी होने पर हर व्यक्ति दवा का सेवन करता …