हार्ट अटैक: महिलाओं में हार्ट अटैक से पहले इन लक्षणों को न करें नजरअंदाज

526226-heartattack

दिल का दौरा महिला लक्षण: पिछले कुछ वर्षों में जीवनशैली में बदलाव के कारण दिल का दौरा पड़ने से मृत्यु दर में वृद्धि हुई है। कम उम्र के लोग भी हृदय रोग से ग्रसित हैं। गलत खान-पान और शारीरिक गतिविधियों में कमी के कारण हार्ट अटैक की समस्या बढ़ गई है। बुरी आदतें हृदय को रक्त की आपूर्ति करने वाली धमनियों में रुकावट पैदा करती हैं और हृदय रोग के खतरे को बढ़ा देती हैं। इसे नज़रअंदाज करने से एक्यूट हार्ट अटैक से मौत भी हो सकती है। ब्रिटिश हार्ट फाउंडेशन के अनुसार, महिलाओं में हृदय रोग के कुछ लक्षण पुरुषों की तुलना में पहले दिखाई देते हैं। तो आइए जानते हैं कि हृदय रोग की शुरुआत से पहले महिलाओं में क्या लक्षण दिखाई देते हैं। 

पाचन समस्याएं- जी मिचलाना पुरुषों और महिलाओं में हार्ट अटैक का मुख्य लक्षण हो सकता है। यह अमेरिकन हार्ट एसोसिएशन के जर्नल में प्रकाशित शोध के अनुसार है। दिल के दौरे के लक्षणों वाली 34 प्रतिशत महिलाओं ने मतली का अनुभव किया। वहीं, 22 फीसदी पुरुषों को महिलाओं की तुलना में मिचली महसूस हुई। जबड़े, गर्दन, पीठ, हाथ या कंधों में दर्द हृदय रोग के लक्षणों में से एक है।

हाथों में झुनझुनी – हाथों में झुनझुनी या सुन्नता भी हृदय रोग के लक्षण हैं। कई बार गलत पोजीशन में ज्यादा देर तक सोने से भी हाथों में झुनझुनी होने लगती है। शोध के अनुसार, एक या दोनों हाथों में अचानक सुन्नता दिल का दौरा या स्ट्रोक का संकेत हो सकता है। 

 

अन्य लक्षण- अन्य लक्षणों में सीने में दर्द, बेचैनी शामिल है। दिल का दौरा हल्के सिरदर्द या सांस की तकलीफ से पहले हो सकता है। बार-बार खांसने या पैनिक अटैक जैसा महसूस होना।

Check Also

अलर्ट: सर्दियों में रात में स्वेटर पहनकर सोने से हो सकती है परेशानी, रहें सावधान

ठंड के मौसम में शरीर पर एक, दो नहीं, बल्कि 4-4 परत के कपड़े पहने …