हेल्दी फूड्स: हर समय कमजोरी का अहसास, दूर करने के लिए डाइट में जरूर शामिल करें

हेल्दी फूड्स: हर समय कमजोरी और थकान महसूस होना, सबसे पहले आपको अपनी डाइट पर ध्यान देने की जरूरत है। अपने आहार के साथ उपयोग करने के लिए एक को एक साथ रखने का तरीका यहां दिया गया है।

बादाम

बादाम प्रोटीन और वसा का अच्छा स्रोत हैं। 100 ग्राम में लगभग 21 ग्राम प्रोटीन होता है। इसके रोजाना सेवन से कमजोरी दूर होती है। बादाम को पानी में भिगोकर दूध के साथ खाने से ज्यादा फायदा होता है। बादाम को रात भर पानी में भिगो दें और सुबह उन्हें छील लें।

अंडे

अंडे में भी भरपूर मात्रा में प्रोटीन होता है। विशेषज्ञ भी रोजाना एक अंडा खाने की सलाह देते हैं। अंडा न सिर्फ कमजोरी को दूर करता है बल्कि दिल को भी स्वस्थ रखता है। एक अंडे में लगभग 6.5 ग्राम प्रोटीन होता है।

दूध

दूध पीना बच्चों और बड़ों के लिए फायदेमंद होता है। इससे शरीर में प्रोटीन के साथ-साथ कैल्शियम की कमी भी पूरी होती है। कैल्शियम युक्त खाद्य पदार्थ हड्डियों की बीमारियों को उम्र बढ़ने से रोकने में मदद कर सकते हैं। एक लीटर दूध में लगभग 40 ग्राम प्रोटीन होता है।

मूंगफली

मूंगफली प्रोटीन और वसा दोनों से भरपूर होती है। इसलिए इसे अपनी मर्जी से खाएं और शरीर की कमजोरी को दूर करें। मक्खन के साथ, छोले की तरह, मूंगफली का उपयोग सॉस और लड्डू में भी किया जा सकता है ताकि उन्हें स्वस्थ और स्वादिष्ट बनाया जा सके।

गाजर की दाल

शाकाहारियों के लिए प्रोटीन स्रोतों की कोई कमी नहीं है। दालें, साबुन के दाने और फल इतने प्रकार के होते हैं कि आप इनसे प्रोटीन की कमी को पूरा कर सकते हैं। अंकुरित मक्के की दाल खाने से इसमें प्रोटीन की मात्रा कई गुना बढ़ जाती है। प्रोटीन के अलावा यह फाइबर का भी अच्छा स्रोत है। इससे पाचन तंत्र स्वस्थ रहता है और वजन भी नियंत्रित रहता है।

Check Also

फलों का रस नहीं है आपका दुश्मन: अध्ययन का नाम पेय जो 3 घंटे में रक्त शर्करा के स्तर को करता है कम

नई दिल्ली: टाइप 2 मधुमेह एक ऐसी स्थिति है जिसमें अग्न्याशय पर्याप्त इंसुलिन का उत्पादन नहीं …