प्रदेश के प्राइवेट अस्पतालों को तुरंत अपने नियंत्रण में लें सरकार : रणदीप

हिसार : न्याय पक्ष के संयोजक एवं विधानसभा चुनाव में नलवा से प्रत्याशी रहे रणदीप लोहचब ने प्रदेश सरकार से मांग की है कि वह निजी अस्पतालों को तुरंत अपने पूर्ण नियंत्रण में लें।
उन्होंने कहा कि प्राइवेट अस्पतालों में लूट की होड़ मची हुई है, उसमें शामिल प्रशासन तथा सरकारों की लापरवाही के कारण लोग मर रहे हैं। इसके साथ ही हर जिले में जनप्रतिनिधियों व प्रशासन की संयुक्त समिति गठित करनी चाहिए।
रणदीप लोहचब ने कहा कि सरकार को अपने गुप्तचर विभाग के माध्यम से उस नगर पार्षद, जिला पार्षद, सरपंच, विधायक तथा अफसर का पता लगाया जाना चाहिए जो ईमानदार है, ऐसे जनप्रतिनिधियों की निगरानी समिति बनाकर उसे पूर्ण प्रशासकीय अधिकार दिए जाने चाहिए।
उन्होंने कहा कि प्राइवेट अस्पतालों के निर्माण की छूट व मनमानी के लिए सरकार जिम्मेवार हैं। किसी किसान को मंडी में अनाज लाने के लिए कई झंझट से गुजरना पड़ता है, मकान के कंप्लीशन सर्टिफिकेट लेने के लिए सोलर लगाना जरूरी है, परंतु एक प्राइवेट अस्पताल जहां मानव जीवन दांव पर लगा होता है, के निर्माण से पहले उसमें ऑक्सीजन का प्लांट लगाना जरूरी क्यों नहीं है? आज हो रही मौतों के लिए यदि कोई न्यायधीश दोषी मानकर किसी को दंडित करें तो सबसे अधिक दोषी कार्यपालिका व प्राइवेट अस्पताल हैं। उन्होंने कहा कि देश में ईमानदार नेताओं का अकाल पड़ गया है, देश, प्रदेश के नेता  कोरोना होने पर गुडग़ांव के मेदांता अस्पताल में दाखिल होते हैं, आज के नेताओं के ऐसे आचरण के कारण ही राजनीति के प्रति लोगों में नफरत पैदा हो रही है।
रणदीप लोहचब ने कहा कि आज संकट के समय केंद्र सरकार अध्यादेश जारी करें कि देश के उद्योगपति जो ऑक्सीजन निर्माण करते हैं उस का प्रयोग अपने उद्योग में तुरंत बंद करके उस ऑक्सीजन को स्वयं देश में सप्लाई करें।

 

NEWS KABILA

Check Also

कुरूक्षेत्र में आयुष विश्वविद्यालय की स्थापना – योग, युनानी, सिद्घा, होम्योपैथी की डिग्रीयां की जाएंगी प्रदान

  चण्डीगढ़, हरियाणा के स्वास्थ्य एवं आयुष मंत्री अनिल विज ने कहा कि कुरूक्षेत्र में …