किए गए वादों को पूरा करने के प्रति सरकार प्रतिबद्ध: राज्यपाल

गुवाहाटी, 05 फरवरी (हि.स.)। असम के राज्यपाल गुलाबचंद कटारिया ने कहा है कि उनकी सरकार असम के लोगों से किए गए सभी वादों को पूरा करने के प्रति प्रतिबद्ध है। उन्होंने कहा कि पहले बताई गई नीतियों और कार्यक्रमों के रूपरेखा से पता चलता है कि उनकी सरकार अगले 2 वर्षों में किस दिशा में जाने का प्रयास कर रही है। राज्यपाल ने जनता से अपील की है कि वह राज्य के सर्वांगीण विकास तथा असम के सभी वर्गों के लोगों के लाभ के लिए सरकार को समर्थन दें एवं सरकार के साथ मिलकर कार्य करें। राज्यपाल कटारिया आज असम विधानसभा के बजट कालीन अधिवेशन के दौरान अपना अभिभाषण दे रहे थे।

105 पृष्ठ के इस अभिभाषण में राज्यपाल ने सरकार द्वारा किए गए विभिन्न कार्यों पर प्रकाश डाला। इनमें सरकार की एक्ट ईस्ट पॉलिसी, सांस्कृतिक क्षेत्र में किए गए कार्यों, चिकित्सा शिक्षा एवं अनुसंधान विभाग, चिकित्सा संबंधी आधारभूत ढांचा के विस्तार, स्वास्थ्य बीमा, नीतिगत पहल, असम हेल्थ इंफ्रास्ट्रक्चर डेवलपमेंट एंड मैनेजमेंट समिति के तहत की परियोजनाएं, विश्व बैंक द्वारा वित्त पोषित सेवा वितरण परिवर्तन के लिए असम राज्य माध्यमिक स्वास्थ्य सेवा पहल परियोजना, सर्वोत्तम प्रथाएं और नवाचार, स्वास्थ्य उपकरण खरीद, आयुष क्षेत्र विकास, स्वास्थ्य क्षेत्र, राजस्व आपदा प्रबंधन क्षेत्र मिशन वसुंधरा दो, स्वामित्व के तहत गैर कंडक्शन गांव के सर्वेक्षण और निपटान की पेशकश, हाइब्रिड प्रौद्योगिकी का उपयोग कर राज्य के 18 हजार 789 गांवों का पुनर्सर्वेक्षण, राष्ट्रीय जेनेरिक दस्तावेज पंजीकरण प्रणाली, पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग, मुख्यमंत्री आवास योजना ग्रामीण, राष्ट्रीय सामाजिक सहायता कार्यक्रम, कुशल कोंवर सार्वजनिक वृद्धा पेंशन योजना, असम राज्य ग्रामीण आजीविका मिशन, उच्च शिक्षा क्षेत्र, नई इंजीनियरिंग कॉलेज और पॉलिटेक्निक, लोक स्वास्थ्य अभियंत्रण विभाग, स्वच्छता क्षेत्र, लोक निर्माण, भवन और राष्ट्रीय राजमार्ग क्षेत्र, सांस्कृतिक क्षेत्र, खेल क्षेत्र, वन्य जीव संरक्षण, कौशल विकास, रोजगार एवं उद्यमिता क्षेत्र आदि समेत राज्य सरकार द्वारा विभिन्न क्षेत्रों में किए गए कार्यों का राज्यपाल ने अभिभाषण में लेखा-जोखा प्रस्तुत किया।

राज्यपाल ने बाल विवाह के विरुद्ध सरकार द्वारा उठाए गए कदम, भ्रष्टाचार के विरुद्ध की जा रही कार्रवाई, राज्य सरकार द्वारा 31 जनवरी तक 88 हजार 547 बेरोजगार युवकों को सरकारी नौकरियां देने, उल्फा के साथ ऐतिहासिक युद्ध विराम समझौता करने जैसे कई महत्वपूर्ण मुद्दों पर विस्तार पूर्वक प्रकाश डाला।

राज्यपाल के अभिभाषण के दौरान विपक्षी सदस्यों द्वारा प्ले कार्ड लेकर किये जा रहे हंगामे के बीच राज्यपाल ने अभिभाषण का अंतिम पृष्ठ पढ़कर अभिभाषण की मूल प्रति को सदन के पटल पर रख दिया।