सरकारी विभाग एसबीआई के सहयोग से स्थापित करेंगे एकीकृत पेंशन पोर्टल, पेंशनभोगियों का काम होगा आसान

पेंशनभोगियों के जीवन को आसान बनाने के लिए एक एकीकृत पेंशन पोर्टल स्थापित किया जाएगा। पोर्टल की स्थापना केंद्र के पेंशन और पेंशनभोगी कल्याण विभाग (डीओपीपीडब्ल्यू) द्वारा देश के सबसे बड़े बैंक एसबीआई के सहयोग से की जाएगी। केंद्रीय कार्मिक, लोक शिकायत और पेंशन मंत्रालय ने एक बयान में कहा कि पेंशनभोगियों को निर्बाध सेवाएं प्रदान करने के लिए डीओपीपीडब्ल्यू और एसबीआई के मौजूदा पोर्टलों को मिलाकर एक एकीकृत पेंशन पोर्टल बनाने की तत्काल आवश्यकता है। ‘फेस ऑथेंटिकेशन’ के उपयोग को बढ़ावा देना चाहिए। डिजिटल जीवन प्रमाण पत्र के लिए प्रौद्योगिकी। ऐसा करने से पेंशनभोगियों का जीवन आसान हो जाएगा।

केंद्रीय कार्मिक, लोक शिकायत और पेंशन मंत्रालय ने एक बयान में कहा कि पेंशनभोगियों के लिए आयकर से संबंधित मुद्दों के साथ-साथ जीवन प्रमाण पत्र जमा करने के डिजिटल साधनों पर एक विशेष सत्र आयोजित किया गया था। बयान के अनुसार, यह निर्णय लिया गया कि पेंशनभोगियों को बिना किसी परेशानी के सेवाएं प्रदान करने के लिए डीओपीपीडब्ल्यू और एसबीआई के मौजूदा पोर्टलों को मिलाकर एक एकीकृत पेंशन पोर्टल बनाने की तत्काल आवश्यकता है।

बयान में कहा गया है, “डिजिटल जीवन प्रमाणपत्रों के लिए फेस ऑथेंटिकेशन तकनीक का बैंकों द्वारा व्यापक रूप से विज्ञापन किया जा सकता है।” बयान के मुताबिक, इस कार्यक्रम से पेंशनभोगियों के जीवन को आसान बनाने में काफी मदद मिलने की उम्मीद है। बयान के अनुसार उम्मीद है कि इन योजनाओं के माध्यम से पेंशनभोगियों के जीवन को समृद्ध बनाने का उद्देश्य काफी हद तक हासिल हो जाएगा। स्टेट बैंक ऑफ इंडिया के सहयोग से देशभर में ऐसे चार जागरूकता कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे।बयान में कहा गया है कि अन्य पेंशनभोगियों के सहयोग से वर्ष 2022-23 में भी इसी तरह के जागरूकता अभियान चलाए जाएंगे।

Check Also

बिना सोचे समझे क्रेडिट कार्ड का इस्तेमाल करना हो सकता है बड़ा नुकसान, इसलिए अपने कार्ड का पूरा फायदा उठाएं

इन दिनों, नियमित आय वाले लगभग सभी भारतीयों के पास क्रेडिट कार्ड होगा । हालांकि, इनमें से बहुत कम लोग …