Goa Assembly Elections 2022: भारत का पहला केंद्र शासित प्रदेश जिसने देश को सबसे पहले दी महिला मुख्यमंत्री

कोरोना संकट के बीच देश में फिर से विधानसभा चुनाव की जोर है. उत्तर प्रदेश समेत जिन 5 राज्यों में विधानसभा चुनाव (Assembly Elections 2022) हो रहे हैं उसमें गोवा (Goa) भी शामिल है. गोवा क्षेत्रफल के लिहाज से देश के बेहद छोटे राज्यों में से एक है, लेकिन राजनीतिक रूप से कुछ कारनामा इस राज्य के खाते में भी दर्ज है. देश का यह पहला केंद्र शासित प्रदेश है जिसने सबसे पहले महिला मुख्यमंत्री (women chief minister) दी.

 

यूं तो देश की पहली महिला मुख्यमंत्री का रिकॉर्ड सुचेता कृपलानी के नाम दर्ज है और वह 1963 में उत्तर प्रदेश की मुख्यमंत्री बनी थीं. लेकिन राज्यों के इतर केंद्र शासित प्रदेशों की बात करें तो सबसे पहली किसी महिला को गोवा में ही मुख्यमंत्री बनने का गौरव हासिल हुआ. तब गोवा केंद्र शासित प्रदेश (गोवा और दमन व दीव केंद्र शासित प्रदेश) हुआ करता था. गोवा 1961 में पुर्तगालियों के चंगुल से आजाद हुआ और भारतीय गणराज्य का हिस्सा बना. गोवा 30 मई, 1987 को केंद्र शासित प्रदेश से पूर्ण राज्य के रूप में तब्दील हुआ.

देश की तीसरी और महिला CM शशिकला काकोडकर

शशिकला काकोडकर (Shashikala Kakodkar) देश की तीसरी और केंद्र शासित प्रदेश की पहली महिला मुख्यमंत्री हैं. काकोडकर महाराष्ट्रवादी गोमंतक पार्टी की नेता थीं और इसी पार्टी की नेता के तौर पर वह 12 अगस्त 1973 को गोवा में पहली बार और महिला मुख्यमंत्री बनी थीं. वह दो बार इस पद पर बनी रहीं.

गोवा में हुए दूसरे विधानसभा चुनाव में वह 1973 में पहली बार मुख्यमंत्री बनी थीं और 1977 में 7 जून तक पद पर बनी रहीं. इसके बाद तीसरी विधानसभा के लिए हुए चुनाव में महाराष्ट्रवादी गोमंतक पार्टी ने फिर से जीत हासिल की और शशिकला फिर से मुख्यमंत्री बनीं. वह 2 बार मुख्यमंत्री बनने वाली किसी केंद्र शासित प्रदेश की पहली महिला नेता भी थीं. इससे पहले ओडिशा राज्य की नंदिनी सत्पथी दो बार अपने यहां मुख्यमंत्री बन चुकी थीं.

दो हजार दिन से ज्यादा समय तक CM रहीं शशिकला काकोडकर

शशिकला काकोडकर अपने दो मुख्यमंत्रीत्व काल में कुल मिलाकर 2084 दिनों तक इस पद पर बनी रहीं. उनका यह रिकॉर्ड 2002 तक बना रहा जब तमिलनाडु में जयललिता ने अपने दूसरे कार्यकाल में यह रिकॉर्ड अपने नाम किया. जयललिता ने अपने 5 कार्यकाल में 5238 दिन मुख्यमंत्री बनी रहीं. देश में सबसे ज्यादा समय तक मुख्यमंत्री बने रहने का रिकॉर्ड शीला दीक्षित के नाम दर्ज है. शीला दीक्षित लगातार 3 कार्यकाल के जरिए कुल 5504 दिनों तक मुख्यमंत्री रही थीं. इसके बाद जयललिता का नाम आता है.

 

शशिकला काकोडकर देश में अब तक बनीं कुल 16 महिला मुख्यमंत्रियों में सबसे ज्यादा समय तक कुर्सी पर बने रहने वाली नेताओं में सातवें पायदान पर हैं. गोवा और दिल्ली ही ऐसे केंद्र शासित प्रदेश हैं जहां महिला मुख्यमंत्री बनने का गौरव हासिल हुआ है.

अब गोवा में एक बार फिर विधानसभा चुनाव हो रहे हैं. गोवा अब पूर्ण राज्य बन चुका है और फिर यहां से अगले मुख्यमंत्री का चयन होगा. अगला मुख्यमंत्री कौन होगा, ये तो अभी तय नहीं है और हमें 10 मार्च तक का इंतजार करना होगा.

Check Also

एक ऑटो ड्राइवर के फैन हुए आनंद महिंद्रा, अपने CEO को दी सीखने की नसीहत

नई दिल्‍ली: सोशल मीडिया पर इन दिनों चेन्‍नई का एक ऑटो ड्राइवर काफी चर्चा में है. …