रेलवे में जनरल टिकट के खरीदार ‘ऐप’ से करा सकते हैं बुकिंग

नई दिल्ली: भारतीय रेलवे ने जनरल बोगी यानी अनारक्षित डिब्बों के लिए भी टिकट बुकिंग में बड़ी राहत दी है, अब रेलवे के यूटीएस एम पर भी जनरल टिकट की बुकिंग की जा सकेगी. यात्रियों को पहले इस एप पर पांच किमी की दूरी तय करनी होगी। 20 किमी तक की दूरी के लिए टिकट बुक किया जा सकता था। हो गया है। यानी 20 किमी. आपको यात्रा करने के लिए टिकट काउंटर पर जाने की जरूरत नहीं है, बल्कि आप ‘ऐप’ के जरिए बुकिंग कर सकते हैं। (इस प्रकार यह लंबी दूरी के लिए किया जा सकता है।) इसलिए, न केवल अनारक्षित टिकट पर यात्रा करने वाले इस सुविधा का लाभ उठा सकेंगे, बल्कि कम दूरी की यात्रा करने वाले भी इस नई सुविधा का लाभ उठा सकेंगे। उन्हें धक्का-मुक्की काउंटर तक जाने की जरूरत नहीं होगी। घर बैठे मोबाइल पर जनरल टिकट खरीदा जा सकता है, इससे रेलवे को भी फायदा होगा क्योंकि काउंटर तक जाने वाली लाइन के प्रबंधन की जिम्मेदारी कम हो जाएगी.

ऐसे में अगर आप मोबाइल से टिकट लेना चाहते हैं तो मोबाइल में यूटीएस एप डाउनलोड करना होगा, फिर बुकिंग टिकट मेन्यू में जाकर जनरल बुकिंग करें, तब ऑनलाइन पेमेंट का विकल्प दिखाई देगा। इंटरनेट बैंकिंग या यूपीआई के माध्यम से भुगतान करने के बाद टिकट ऐप पर दिखाई देगा।

यूटीएस अनारक्षित ट्रेन टिकट बुक करने के लिए भारतीय रेलवे का आधिकारिक एंड्रॉइड मोबाइल टिकिंग ऐप है, लेकिन यह सेवा सत्रह वर्ष से कम उम्र के नाबालिगों के लिए उपलब्ध नहीं है (क्योंकि नाबालिगों को जिम्मेदारी से काम करने की संभावना नहीं है।)

बुकिंग में समय की बर्बादी रोकने के लिए रेलवे ने यह ‘ऐप’ लॉन्च किया है। यात्री को उस ‘ऐप’ में गंतव्य के स्टेशन का नाम बताना अनिवार्य है। नाम और उम्र बताना भी जरूरी है।

अब अगर किसी वजह से पेमेंट ट्रांजैक्शन फेल हो जाता है तो 6-7 दिनों के अंदर पैसा वापस उसी खाते में क्रेडिट हो जाता है, जिससे ऑनलाइन बुकिंग की गई थी।

यह ध्यान देने योग्य है कि आपको यह तय करना होगा कि आप पेपरलेस (मोबाइल पर दिखाई देने वाला प्रिंट) चाहते हैं या पेपर से प्रिंट करना चाहते हैं।

Check Also

गुजरात-हिमाचल चुनाव: जानिए- मोदी समेत इन बड़े नेताओं के लिए क्या मायने रखते हैं गुजरात और हिमाचल के नतीजे

नई दिल्ली: गुजरात-हिमाचल चुनाव परिणाम गुजरात और हिमाचल के चुनाव नतीजों में जहां एक तरफ बीजेपी …