गैंगस्टर अकुल खत्री की आत्महत्या की कोशिश:बठिंडा जेल में दूसरी मंजिल से कूदा; दोनों टांगों में फ्रैक्चर; जेलर ने फोन करने से रोका था

प्रतीकात्मक फोटो। - Dainik Bhaskar

प्रतीकात्मक फोटो।

पंजाब में बठिंडा की केंद्रीय जेल में बंद कुख्यात गैंगस्टर अकुल खत्री ने गुरुवार देर शाम जेल की दूसरी मंजिल से छलांग लगाकर सुसाइड करने का प्रयास किया। उसकी दोनों टांगों में फ्रैक्चर आने पर उसे पहले बठिंडा के सरकारी अस्पताल में लाया गया। बाद में उसे फरीदकोट मेडिकल कॉलेज के लिए रेफर कर दिया गया। जेल प्रशासन सुसाइड के प्रयास के इस मामले को हादसा बता रहा है। गैंगस्टर ने परिजनों से फोन पर बात नहीं करने देने पर यह कदम उठाया।

जानकारी अनुसार केंद्रीय जेल में शाम के समय सभी कैदी जेल में लगे पीसीओ से अपने-अपने परिवारों के साथ बातचीत करने के लिए लाइन में लगे हुए थे। हर कैदी को फोन पर बात करने के लिए 15 मिनट मिलते हैं। लेकिन जब अकुल खत्री का नंबर आया तो उसे मना कर दिया गया। इसके बाद वह जेल की दूसरी मंजिल में जा पहुंचा और वहां से छलांग लगा दी।

रात को लाया गया अस्पताल

नीचे गिरने से उसकी दोनों टांगों में फ्रैक्चर आ गया। उसे जेल के अस्पताल में ले जाया गया। वहीं उपचार चलता रहा, लेकिन देर रात 9:30 बजे के करीब भारी पुलिस फोर्स के साथ उसे बठिंडा के सरकारी अस्पताल लाया गया। यहां पहले हड्डियों के लिए माहिर डॉ विजय मित्तल ने उनका ट्रिटमैंट किया। फिर सर्जन डॉक्टर चावला ने भी गैंगस्टर को चेक किया।

पुलिस को बताया-फुटबाल खेलते हादसा

इसके बाद गैंगस्टर के एक्स-रे वगैरा करवाने के बाद करीब 12:00 बजे पुलिस फोर्स के साथ उसे फरीदकोट के लिए रेफर कर दिया गया। उधर थाना कैंट के प्रभारी वरुण का कहना है कि उनके पास जेल से पत्र आया है, उसमें लिखा गया है कि वॉलीबॉल खेलते समय गैंगस्टर अकुल खत्री गिर गया। जिससे उसके पैरों में फ्रैक्चर आया है। जब की सरकारी अस्पताल में गैंगस्टर के नाम से एंट्री हुई हैं, वहां पर सुसाइड अटेम्प्ट लिखा गया है।

ए श्रेणी का गैंगस्टर है अकुल

अजनाला, अमृतसर निवासी अकुल खत्री ए श्रेणी का गैंगस्टर बताया जा रहा है। करीब पांच साल पहले यह कुख्यात जग्गू गैंग से जुड़ा था। इसको दूसरे कुख्यात गैंगस्टर बंबीहा ग्रुप ने किडनैप करके उसके पेट में गोली मार दी थी। जग्गू ने जेल से ही इस बारे में फेसबुुक पर उसे बंबीहा गैंग से रिहा कराने की पोस्ट डाली थी।

मां भी हुई गिरफ्तार

अकुल की मां हनी बाला को भी ब्यास पुलिस ने हेरोइन सप्लाई करने के आरोप में पकड़ा था। बताया गया कि वह जेल से फोन करके मां को हेरोइन पहुंचाने के लिए जगह बताता था। पकड़े जाने पर हनी बाला ने 100 से अधिक जगह पर नशा सप्लाई की बात को कबूला था। अकुल खत्री पर लूट, कत्ल, हत्या के प्रयास सरीखे अनेक केस दर्ज हैं।

 

खबरें और भी हैं…

Check Also

गणतंत्र दिवस पर कुछ मेट्रो स्टेशन और पार्किंग रहेंगे बंद

नई दिल्ली, 24 जनवरी (हि.स.)। गणतंत्र दिवस के मौके पर सुरक्षा के चलते मेट्रो की …