रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने से लेकर मधुमेह तक, यह फल प्रदान करता है 9 लाभ

जामुनी गर्मी में खाया जाने वाला एक स्वादिष्ट फल है। यह मई और जून के महीनों में आता है। बैंगनी रंग में मीठा स्वाद होने के साथ-साथ स्वास्थ्य लाभ भी होते हैं। इसे ब्लैक प्लम या जावा प्लम के नाम से भी जाना जाता है। यह पेट दर्द, मधुमेह, गठिया, पैच और कई पाचन समस्याओं को ठीक करने में मदद करता है।

खून की कमी को पूरा करता है

विटामिन सी और आयरन से भरपूर बैंगनी रंग शरीर में हीमोग्लोबिन की मात्रा को बढ़ाता है। जैसे-जैसे शरीर में हीमोग्लोबिन की मात्रा बढ़ती है, ऑक्सीजन की वहन क्षमता बढ़ती जाती है। इससे शरीर में खून की कमी पूरी होती है और आप स्वस्थ रहते हैं। बैंगनी रंग में मौजूद आयरन रक्त को शुद्ध करने में मदद करता है।

 

त्वचा की समस्याओं को दूर करता है

बैंगनी रंग में कसैले गुण होते हैं, जो त्वचा को स्वस्थ रखने में मदद करते हैं। इसके सेवन से त्वचा पर मुंहासे और पिंपल्स की समस्या कम हो जाती है। अगर आपकी त्वचा तैलीय है तो बैंगनी रंग का सेवन अवश्य करें। इससे त्वचा में ताजगी बनी रहेगी। बैंगनी त्वचा की समस्याओं को दूर करने और उसे साफ रखने में मदद करता है।

वसा में कमी

जामुन फाइबर से भरपूर होता है और कैलोरी में बहुत कम होता है। इसमें विटामिन सी, आयरन, फास्फोरस, मैग्नीशियम और फोलिक एसिड भी होता है। यह शरीर को स्वस्थ रखने में मदद करता है। इसके सेवन से पेट लंबे समय तक भरा रहता है, जिससे आपको बार-बार भूख नहीं लगती है। इसके नियमित सेवन से वजन कम करने में मदद मिलती है।

इम्युनिटी बढ़ाता है

जम्बू में विटामिन, खनिज, एंटीऑक्सीडेंट होते हैं। ये इम्यून सिस्टम को मजबूत कर शरीर की सहनशक्ति को बढ़ाते हैं।

दांतों और मसूड़ों के लिए फायदेमंद

मसूढ़ों और दांतों के लिए बैंगनी रंग फायदेमंद होता है। बैंगनी रंग की पत्तियों में एंटी-बैक्टीरियल गुण होते हैं। इसके सेवन से मसूड़ों से खून आना बंद हो जाता है और संक्रमण का फैलाव रुक जाता है। बैंगनी पत्तों को सुखाकर टूथ पाउडर के रूप में इस्तेमाल किया जा सकता है। इसमें कसैले गुण होते हैं जो मुंह के छालों को ठीक करने में मदद करते हैं। इसके अलावा जामुनी छाल के काढ़े को मुंह के छालों में इस्तेमाल करने से लाभ होता है।

 

दिल के लिए फायदेमंद

पोटैशियम से भरपूर बैंगनी दिल के लिए बहुत फायदेमंद होता है। हर 100 ग्राम जामुन में लगभग 55 मिलीग्राम पोटैशियम होता है। हाई ब्लड प्रेशर, हृदय रोग और हार्ट स्ट्रोक जैसी समस्याओं के खतरे को दूर रखने में यह फल फायदेमंद है। बैंगनी धमनियों को स्वस्थ रखता है और उन्हें सख्त होने से रोकता है।

संक्रमण को रोकता है

बैंगनी रंग में एंटी-बैक्टीरियल, एंटी-इंफेक्टिव और मलेरिया-रोधी गुण होते हैं। जम्बू में मैलिक एसिड, टैनिन, गैलिक एसिड, ऑक्सालिक एसिड और ब्यूटुलिक एसिड भी होता है। इसके सेवन से शरीर आम संक्रमण से दूर रहता है।

मधुमेह में लाभकारी

बैंगनी रंग मधुमेह में एक कारगर फल माना जाता है। यह बार-बार पेशाब आने और अत्यधिक प्यास लगने की विशेषता वाले मधुमेह के लक्षणों को दूर करने में मदद करता है। इसमें लो ग्लाइसेमिक इंडेक्स होता है, जो ब्लड शुगर लेवल को सामान्य रखता है। बैंगनी रंग के पेड़ की छाल और पत्तियों का उपयोग मधुमेह के इलाज के लिए किया जाता है।

आंखों के लिए फायदेमंद

बैंगनी हीमोग्लोबिन के स्तर में सुधार करता है और इसमें मौजूद आयरन रक्त शोधक के रूप में कार्य करता है। यह त्वचा के लिए फायदेमंद होने के साथ-साथ आंखों के स्वास्थ्य को बेहतर बनाने में भी मदद करता है। जम्बू में कई प्रकार के खनिज, विटामिन सी और ए भी होते हैं।

Check Also

हेल्थ केयर टिप्स: ब्राउन राइस के सेवन से रहता है ब्लड प्रेशर कंट्रोल, जानें इसके कमाल के फायदे

ब्राउन राइस : ब्राउन राइस बहुत ही पौष्टिक और फायदेमंद होता है, यह हमारी सेहत …