फोर्टिस हेल्थकेयर के पूर्व प्रमोटरों मालविंदर और शिविंदर को सुप्रीम कोर्ट ने 6 महीने की सजा सुनाई

12-41

सुप्रीम कोर्ट ने गुरुवार को फोर्टिस हेल्थकेयर के पूर्व प्रमोटरों मलविंदर सिंह और शिविंदर सिंह को जापानी फर्म दाइची सांक्यो द्वारा दायर एक मामले में छह महीने जेल की सजा सुनाई। कोर्ट ने फोर्टिस हेल्थकेयर लिमिटेड के शेयरों की बिक्री का फोरेंसिक ऑडिट करने का भी आदेश दिया। सुप्रीम कोर्ट ने IHH के खुले प्रस्ताव पर रोक जारी रखी और मामले को दिल्ली उच्च न्यायालय के पास भेज दिया।

सुप्रीम कोर्ट ने सिंह बंधुओं को दी सजा
सुप्रीम कोर्ट ने सिंह बंधुओं को दी सजा

गौरतलब है कि फोर्टिस हेल्थकेयर लिमिटेड के पूर्व प्रवर्तक भी जापानी कंपनी ‘दाइची सैंक्यो’ के साथ अदालती लड़ाई में शामिल हैं। जापानी कंपनी ने सिंगापुर ट्रिब्यूनल में सिंह बंधुओं के खिलाफ 3,600 करोड़ रुपये की मध्यस्थता राशि जीती और इसे पाने के लिए फोर्टिस-आईएचएच शेयर सौदे को चुनौती दी। दाइची और सिंह बंधुओं के बीच अदालती लड़ाई से आईएचएच-फोर्टिस सौदा ठप हो गया है।

 

उल्लेखनीय है कि 2018 में दाइची ने अदालत का दरवाजा खटखटाया था, जब कुछ भारतीयों ने फोर्टिस हेल्थकेयर के अपने शेयर मलेशियाई कंपनी आईएचएच को बेच दिए थे। जापानी कंपनी ने आरोप लगाया कि फोर्टिस के पूर्व प्रमोटरों ने उसे आश्वासन दिया था कि भारतीय अस्पताल श्रृंखला में उनके शेयर ट्रिब्यूनल के फैसले के अनुसार मध्यस्थता राशि का भुगतान करेंगे।

सुप्रीम कोर्ट ने सिंह बंधुओं को दी सजा
सुप्रीम कोर्ट ने सिंह बंधुओं को दी सजा

इस संबंध में फोर्टिस हेल्थकेयर ने एक बयान में कहा कि हम समझते हैं कि सुप्रीम कोर्ट के समक्ष सुनवाई कुछ निर्देशों के साथ समाप्त हो गई है और स्वत: संज्ञान लेकर शुरू की गई मानहानि की कार्यवाही भी समाप्त हो गई है। हम सुप्रीम कोर्ट के निर्देशों का पालन करेंगे और भविष्य की कार्रवाई पर कानूनी सलाह लेंगे।

Check Also

moNF8xHAsMOVyfYeAnS3l7Dfz4JBb13kI4LkiXmf

राजस्थान सीएम विवाद के बाद: सोनिया गांधी एक्शन में, खड़गे को संदेश

राजस्थान में मुख्यमंत्री की कुर्सी को लेकर नया मोड़ आ गया है. अशोक गहलोत का समर्थन …