छत्तीसगढ़:सक्रिय पांच नक्सलियों ने किया आत्मसमर्पण

20dl_m_961_20092022_1

सुकमा, 20 सितंबर (हि.स.)।छत्तीसगढ़ के सुकमा जिले के भेजी थाना क्षेत्र अंतर्गत सक्रिय पांच नक्सलियों ने पुलिस, कोबरा व सीआरपीएफ के अधिकारियों के समक्ष मंगलवार को बिना हथियार के आत्मसमर्पण कर दिया।वे शासन द्वारा चलाई जा रही पुनर्वास नीति व सुकमा पुलिस की पूना नर्कोम अभियान से प्रभावित होकर नक्सल हिंसा के रास्ते को छोड़कर समाज की मुख्यधारा में शामिल हुए हैं।

मंगलवार को नक्सली संगठन में सक्रिय पांच नक्सली सुरक्षा बल के कैम्प पहुंचे। आत्म समर्पित नक्सली मिलिशिया सदस्य मड़कम सुक्का, जीआरडी सदस्य माड़वी लखमा, मिलिशिया डिप्टी कमाण्डर सोड़ी हुंगा, मिलिशिया सदस्य सोड़ी रामा, मिलिशिया सदस्य सोड़ी दुरवा ने आत्म समर्पण किया। सभी आत्मसमर्पित नक्सली ग्राम वीराभट्टी थाना भेजी क्षेत्र के निवासी है। कोलाईगुड़ा कैम्प में एसपी सुनील शर्मा, कोरबा 202 वाहिनी के द्वितीय कमान अधिकारी पुर्नवासु तिवारी, सीआरपीएफ 50 वाहिनी के द्वितीय कमान अधिकारी पामुला किशोर, कोन्टा एएसपी गौरव मण्डल, कोन्टा ए एसपी नक्सल ऑपरेशन गिरिजा शंकर साव, एएसपी उत्तम प्रताप सिंह, भेजी थाना प्रभारी देवेन्द्र कुमार ठाकुर, विरेन्द्र सिंह, हेमन्त पटेल के समक्ष उन्होंने बिना हथियार के आत्मसमर्पण किया।

आत्मसमर्पण कार्यक्रम के पश्चात् ग्रामीणों को खेल , शिक्षण एवं दैनिक उपयोगी सामग्री वितरित किया गया। नक्सलियों को आत्मसमर्पण कराने में डिप्टी कमाण्डेन्ट नवनीत सिंह, मृनमोय बनर्जी, शैलेश कुमार, दक्षिण मुर्ती, राम शरण, उत्तम कुमार सोरी, संदीप माडिले सहित कोरबा, सीआरपीएफ व डीआरजी टीम का विशेष योगदान रहा। आत्मसमर्पित नक्सलियों को छत्तीसगढ़ शासन की पुर्नवास योजना के तहत प्रोत्साहन राशि व अन्य सुविधाएं दी जायेंगी।

Check Also

27_09_2022-dead_body.jfif

बठिंडा समाचार: राजस्थान के एक व्यापारी ने बठिंडा में जहरीली दवा निगल कर की आत्महत्या

बठिंडा : राजस्थान के स्थानीय रेलवे रोड स्थित एक होटल में जहरीली दवा निगल कर आत्महत्या …