Saturday , February 29 2020
Home / झारखण्ड / 2 बेटियों को मारकर पिता बोला अब मैंने मुक्ति पा ली, भगवान से प्रार्थना है जल्द मुझे फांसी हो जाए

2 बेटियों को मारकर पिता बोला अब मैंने मुक्ति पा ली, भगवान से प्रार्थना है जल्द मुझे फांसी हो जाए

रांची. झारखंड में एक दिल दहला देने वाली घटना सामने आई है। जहां एक पिता ने जिन हाथों से अपनी दो बेटियों को पकड़कर चलना सिखाया था। आज उन्हीं हाथों से उसने अपनी बच्चियों का गला दबाकर मौत के घाट उतार दिया। यह दर्दनाक घटना बोकारो के पेटरवार थानाक्षेत्र में बुधवार देर रात हुई है। रात को सूचना मिलने पर मौके पर पुलिस ने पहुंचकर दोनों बच्चियों को निकट के अस्पताल में भर्ती कराया।  जहां डॉक्टरों ने दोनों को मृत घोषित कर दिया। हालांकि घटना के बाद आरोपी पिता मनसू स्वर्णकार को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है।

घटना की जानकारी देते हुए आरोपी के बेटे ने पुलिस को बताया कि पिता बाजार से नींद की गोली लेकर आए थे। जहां उन्होंने बहनें 15 साल की प्रिया कुमारी और 12 साल की किरण कुमारी सोने से पहले खिला दीं। इसके बाद देर रात को जब बहनों की चिल्लाने की आवाज सुनी तो हम बाहर पहुंचे तो देखा वह दोनों बहनों का एक करके गला दबा चुके थे।

घटना  को अंजाम देने के बाद आरोपी ने पुलिस को बताया कि अब मैंने मुक्ति पा ली है। अब बस भगवान से यही प्राथना है कि जल्दी ही मुझे फांसी मिले। वहीं मां का रो-रोकर बुरा हाल है।

घटना को अंजाम देने के बाद आरोपी ने पुलिस को बताया कि अब मैंने मुक्ति पा ली है। अब बस भगवान से यही प्राथना है कि जल्दी ही मुझे फांसी मिले। वहीं मां का रो-रोकर बुरा हाल है।

हिरासत में लेने के बाद आरोपी ने पुलिस को बताया कि वह रोज-रोज के कलह से परेशान हो चुका था। पत्नी बार-बार ताना देती थी कि तुम अपने चारों बच्चों को ले जाओ। हम बिदांस जिंदगी जिएंगे। सर में पिछले दो साल से होटल में खाना खा रहा था। अपनी जिंदगी से टूट चुका था इसलिए मजबूर होकर दोनों लड़कियों की हत्या की है। आप ही बताओ इसके अलावा में क्या कर करता।

हिरासत में लेने के बाद आरोपी ने पुलिस को बताया कि वह रोज-रोज के कलह से परेशान हो चुका था। पत्नी बार-बार ताना देती थी कि तुम अपने चारों बच्चों को ले जाओ। हम बिदांस जिंदगी जिएंगे। सर में पिछले दो साल से होटल में खाना खा रहा था। अपनी जिंदगी से टूट चुका था इसलिए मजबूर होकर दोनों लड़कियों की हत्या की है। आप ही बताओ इसके अलावा में क्या कर करता।

बेटों ने जब पिता को देखा तो वह चिल्ला ने लगे। उनकी आवाज सुनकर आरोपी की पत्नी और पड़ोसी पहुंचे तो उन्होंने देखा कि झाड़ियों में दोनों बच्चियों की लाशें पड़ी हैं।

बेटों ने जब पिता को देखा तो वह चिल्ला ने लगे। उनकी आवाज सुनकर आरोपी की पत्नी और पड़ोसी पहुंचे तो उन्होंने देखा कि झाड़ियों में दोनों बच्चियों की लाशें पड़ी हैं।

आरोपी फुसरो में कपड़े की दुकान चलाता था। रात में दुकान से घर लौटने के बाद घटना को अंजाम दिया था।

आरोपी फुसरो में कपड़े की दुकान चलाता था। रात में दुकान से घर लौटने के बाद घटना को अंजाम दिया था।

Loading...

Check Also

गुरु-शिष्य का रिश्ता हुआ कलंकित, मौलवी ने मदरसे की नाबालिग छात्रा को बनाया अपनी हवस का शिकार

मांडर (रांची) : गुरु और शिष्य के रिश्ते को तार तार करने वाली एक घटना रांची ...