आयुर्वेद में कैंसर के उपचार पर चर्चा के लिए जुटे विशेषज्ञ

hc_1_296

जयपुर, 23 सितम्बर (हि.स.)। आयुर्वेद दिवस के विभिन्न कार्यक्रमों की श्रृंखला में राष्ट्रीय आयुर्वेद संस्थान की कैंसर यूनिट की ओर से शुक्रवार को स्तन कैंसर विषय पर दो दिवसीय कॉन्फ्रेंस का उद्घाटन हुआ। इसमें पूरे भारतवर्ष से 300 से भी ज्यादा प्रतिभागी उपस्थित ले रहे हैं।

कार्यक्रम में प्रो. मीता कोटेचा (प्रो वी.सी.), प्रो. ए. राममूर्ति (कुलसचिव), डॉ. शरद पोर्टे (कैंसर आयुर्वेद विशेषज्ञ) ने उद्बोधन दिया। विषय विशेषज्ञ डॉ. एस. के. खाण्डल (वरिष्ठ आयुर्वेद विशेषज्ञ), डॉ. विनीता देशमुख (कैंसर आयुर्वेद विशेषज्ञ), डॉ. ज्योति कोडे (वरिष्ठ वैज्ञानिक, टाटा कैंसर हॉस्पिटल मुम्बई) ने स्तन कैंसर के कारण, निदान एवं आयुर्वेद चिकित्सा पर अपने अनुभव एवं शोध कार्यों पर व्याख्यान दिये।

इस अवसर पर ’प्रीवेंटिव एंड आयुर्वेदिक एड्जूवेंट ट्रीटमेंट ऑफ कैंसर एवं इंटीग्रेटिव एप्रोच इन द डायग्नोसिस एंड मैनेजमेंट ऑफ ब्रेस्ट कैंसर’ विषय पर पुस्तकों का विमोचन भी किया गया। संस्थान के चिकित्सालय में कैंसर चिकित्सा इकाई द्वारा विभिन्न प्रकार के कैंसर के मरीजों को रोग की स्थिति के अनुसार निःशुल्क आयुर्वेद एवम योग चिकित्सा तथा आहार एवं जीवनशैली परिवर्तन के बारे में परामर्श दिया जा रहा है। कैंसर विषयक दो दिवसीय कार्यशाला से संस्थान के चिकित्सालय में दी जाने वाली सेवाओं में उत्कृष्टता बढ़ेगी, जिसका लाभ कैंसर से पीड़ित मरीजों को होगा।

राष्ट्रीय आयुर्वेद संस्थान को इस की कार्यशैली देखते हुए हाल ही में आयुष मंत्रालय द्वारा आयुर्वेद आहार के लिए नोडल सेंटर घोषित किया गया है।

Check Also

com_

मित्रों साथ घूमने के विरोध से नाराज हुआ छात्र

– तीन दिन से लापता छात्र को स्टेशन अधीक्षक-जीआरपी ने पकड़ा, इटावा जनपद के भरथना …