बेटी के सगाई के बाद भी प्रेमी कर रहा था तंग, परिवार वालों ने प्रेमी के साथ जो किया जानकर हैरान होंगे

सगाई होने के बाद भी युवती को उसका प्रेमी मेलजोल रखने के लिए मजबूर किया करता था। उसे रास्ते से हटाने के लिए युवती के ही एक ओर प्रेमी ने उसकी हत्या करने की योजना बनाई। पूरा परिवार इस षडयंत्र में शामिल हुआ और धोखे से परेशान करने वाले प्रेमी को मिलने के लिए युवती ने सूने स्थान पर बुलाया। जंगल में छिपे युवती समेत उसका दूसरा प्रेमी, पिता, मामा, नाबालिग भाई उस पर टूट पड़े। गला घोंट कर हत्या करने के बाद शव को ठिकाने लगाने नाले में फेंक दिए।

रजगामार निवासी कृष्ण कुमार कंवर पिता सेधूराम (35) 10 दिसंबर 2019 को अचानक लापता हो गया था। पुलिस गुम इंसान कायम कर पतासाजी कर रही थी। करीब 36 दिन बाद 15 जनवरी को श्यांग थाना क्षेत्र लबेद दातार बांध में सड़ी गली अवस्था में कृष्ण कुमार की लाश मिली। कपड़े के आधार पर मृतक की परिजनों ने शिनाख्त की। पोस्टमार्टम रिपोर्ट मिलने पर गला घोंट कर हत्या करने के बाद शव को बांध में फेंके जाने की पुष्टि हुई। इसके साथ ही पुलिस हरकत में आ गई और जांच पड़ताल शुरू की। इस दौरान पुलिस को पता चला कि ग्राम डूमरडीह में रहने वाली युवती कु. कोमल उर्फ कचरा महंत (20) साल के साथ कृष्ण के साथ प्रेम संबंध था।

पुलिस के लिए यह अहम सुराग साबित हुआ। कोमल से पुलिस ने पूछताछ की, तो पहले वह गोलमोल जवाब देते रही, पर पुलिस के समक्ष ज्यादा देर टिक नहीं सकी और उसने हकीकत बयां कर दी। पुलिस को उसने बताया कि उसकी शादी तय हो गई थी, उसके बाद भी कृष्ण उसे फोन लगाकर मिलने के लिए मजबूर किया करता था। परिजन भी इस बात से वाकिफ थे, इस वजह से शादी टूटने का डर बना हुआ था। परिजन भी चाहते थे कि कृष्ण उसका पीछा छोड़ दे। कोमल ने काफी समझाने की कोशिश की, उसके बाद भी कृष्ण नहीं माना, तब कोमल के पिता मोहन दास (45) ने संविदा वनकर्मी मंसाराम महतो उर्फ नाका पिता मोहन महतो (33) निवासी ग्राम कुदमुरा से संपर्क किया।  
दरअसल मंसाराम भी युवती से प्यार करता था और वह चाहता था कि किसी तरह कृष्ण, कोमल से अलग हो जाए तो उसके लिए आगे का रास्ता खुल जाएगा। यही वजह है कि उसने परिवारवालों को कृष्ण की हत्या कर देने के लिए उकसाया और पूरी योजना तैयार की। कोमल का इस्तेमाल कर कृष्ण को जंगल में बुलाया गया और उसकी गमछा से गला घोंट कर हत्या कर दी। हत्या करने व लाश को ठिकाने लगाने में कोमल व उसके पिता मोहन, मामा इतवार दास पिता स्व.बिसाहू दास (36) निवासी पुरानी बस्ती कोहड़िया, नाबालिग भाई तथा मंसाराम शामिल रहे। पुलिस ने सभी को धारा 302, 201 तथा 120 बी के तहत गिरफ्तार कर लिया है।

Check Also

मुर्गी को महिला की तरह शुरू हुई प्रसव पीड़ा, छटपटाते हुए गर्भ से अंडा नहीं, सीधे बाहर निकाला बच्चा

दुनिया में कई ऐसे मामले सामने आते हैं, जिनपर यकीन करना काफी मुश्किल होता है। …