EPFO Tips: पैसों की जरूरत है तो मिनटों में निकाल सकते हैं प्रोविडेंट फंड से रकम, जानिए उमंग ऐप का प्रोसेस…

8479a8bc6428a494fae2796c1d764c98166505313542977_original

उमंग ऐप: उमंग ऐप एक ऐसा ऐप है जो आपको भविष्य निधि में रखे पैसे को निकालने में मदद करता है, यहां हम आपको स्टेप बाय स्टेप दिखा रहे हैं। अचानक से पैसों की जरूरत पड़ने पर भविष्य निधि में रखा पैसा आपके बहुत काम आ सकता है। आज हम आपको कुछ ऐसे आसान स्टेप्स दिखाने जा रहे हैं जिनके जरिए आप उमंग एप के जरिए भविष्य निधि खाते में जमा पैसे आसानी से निकाल सकते हैं। 

उमंग ऐप आपकी मदद करेगा – 

उमंग ऐप के जरिए आप बहुत ही आसानी से प्रोविडेंट फंड बैलेंस चेक कर सकते हैं, यूएएन एक्टिवेट कर सकते हैं आदि। जानिए कैसे आप उमंग ऐप के जरिए निकाल सकते हैं प्रॉविडेंट फंड का पैसा।

उमंग ऐप की प्रक्रिया – 

 

पैसे निकालने के लिए सबसे पहले आप उमंग एप को ओपन करें। इसके बाद EPFO ​​सर्विस ऑप्शन पर क्लिक करें। इसके बाद कर्मचारी केंद्रित के विकल्प का चयन करें। 

इसके बाद राइज क्लेम ऑप्शन पर क्लिक करें। इसके बाद इसमें EPF UAN नंबर नोट कर लें। इसके बाद अपना रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर और ओटीपी दर्ज करें। 

इसके बाद विदड्रॉल ऑप्शन को सेलेक्ट करें। इसके बाद अपना क्लेम स्टेटस चेक करें, इसके बाद आप आसानी से भविष्य निधि खाते से पैसे निकाल सकते हैं। बिना EPFO ​​ऑफिस जाए आपका काम घर बैठे ही हो जाएगा. 

 

EPFO नियम अपडेट: स्वरोजगार के लिए भी खुलेंगे EPF अकाउंट, जल्द बदलेंगे नियम!

EPFO नियम:  क्या आप 20 से कम कर्मचारियों वाली कंपनी में काम कर रहे हैं? क्या आप स्व – नियोजित हैं? तो जल्द ही आपको अच्छी खबर मिलेगी। आप कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (EPFO) में नौकरीपेशा व्यक्ति के रूप में भी खाता खोल सकते हैं। दरअसल ईपीएफओ ने संगठित क्षेत्र में काम करने वाले सभी लोगों को ईपीएफओ से जोड़ने और स्वरोजगार करने वालों के लिए ईपीएफ खाता खोलने का प्रस्ताव दिया है. इसके लिए EPFO ​​ने 15,000 रुपये की वेतन सीमा को समाप्त करने और 20 से अधिक कर्मचारियों वाली कंपनियों के कर्मचारियों के लिए EPF खाता खोलने के नियम को हटाने का सुझाव दिया है।

यदि आप स्व-व्यवसायी हैं तो भी  खुला EPF  खाता !

दरअसल, फिलहाल EPF अकाउंट खोलने के लिए कम से कम 15,000 रुपये सैलरी की जरूरत होती है। साथ ही कर्मचारी ईपीएफ खाता उसी कंपनी में खोला जा सकता है, जहां कम से कम 20 कर्मचारी काम कर रहे हों। लेकिन इस नियम में संशोधन के बाद स्वरोजगार करने वाले लोग भी ईपीएफ खाता खोल सकेंगे। तो संगठित क्षेत्र में काम करने वाले सभी कर्मचारी, भले ही कंपनी में 20 से कम कर्मचारी हों, नियम संशोधन के बाद अपना ईपीएफ खाता खोल सकते हैं। इसके साथ ही स्वरोजगार करने वाले लोग अपना ईपीएफ खाता भी खोल सकते हैं। ईपीएफओ इस प्रस्ताव को लेकर राज्य सरकारों के अलावा हितधारकों के साथ चर्चा कर रहा है।

बढ़ेगी ईपीएफ  खाताधारकों की संख्या!

सामाजिक सुरक्षा योजना में बढ़ेगा नामांकन!

आपको बता दें कि EPFO ​​कर्मचारी जमा लिंक्ड बीमा योजना के माध्यम से पेंशन के अलावा EPF, कर्मचारी पेंशन योजना के माध्यम से भविष्य निधि के माध्यम से खाताधारकों को बीमा लाभ प्रदान करता है। सामाजिक सुरक्षा संहिता 2020 में संगठित क्षेत्र के कामगारों, गिग और प्लेटफॉर्म कर्मचारियों को ईएसआईसी और ईपीएफओ के सेवानिवृत्ति लाभों के प्रावधान का भी प्रावधान है। इसके लिए अधिसूचना के माध्यम से आवश्यक संशोधन किए गए हैं।

Check Also

डाकघर योजना : मैरिड सिल्वर; 50 हजार से ज्यादा सीधे पोस्ट ऑफिस के खाते में आएंगे

पोस्ट ऑफिस मंथली सेविंग स्कीम:  आमतौर पर शादीशुदा जोड़ों के सामने जो एक बड़ा सवाल होता …