शहर में सादगीपूर्वक मनाया गया ईद-उल-अजहा पर्व – ईदगाह में नहीं हुई सामूहिक नमाज

भोपाल : कोरोना संक्रमण के चलते राजधानी में पिछले साल की तरह इस बार भी मुस्लिम समुदाय के लोगों द्वारा ईद-उल-अजहा पूर्व सादगीपूर्ण ढंग से मनाया जा जा रहा है। ज्यादातर लोगों ने बुधवार सुबह अपने-अपने घरों में ही नमाज अता की। इसके बाद कुर्बानी का सिलसिला शुरू हुआ। मुस्लिम क्षेत्रों में पुलिस का कड़ा पहरा रहा। शहर की ताजुल मस्जिद, मोती मस्जिद सहित न्यू मार्केट, कोलार गेंहूखेड़ा, गोविंदपुरा, गांधी नगर में स्थित सभी मस्जिदों में शासन की गाइडलाइन के मुताबिक बेहद सीमित संख्या में ही लोगों ने नमाज पढ़ी। ईदगाह पर भी इमाम सहित कुल छह लोगों ने परंपरा बनाए रखने के लिए नमाज अदा की। शहर काजी सैयद मुश्ताक अली नदवी के अपील पर मुस्लिम समाज के लोग सुरक्षित शारीरिक दूरी बनाकर एक-दूसरे को ईद की बधाई दी।

 

पुराने शहर के इमामबाड़ा, हमीदिया रोड, भोपाल टॉकीज, भारत टॉकीज, नादरा बस स्टैंड, रेलवे स्टेशन, करोंद, गांधी नगर, संत हिरदाराम नगर सहित नए शहर में कोलार इनायतपुर, गेहूंखेड़ा, भेल, आनंद नगर, अयोध्या बायपास सहित शहर की अन्य कॉलोनियों में रहने वाले मुस्लिम समाज के लोगों ने फोन व इंटरनेट मीडिया के जरिए एक-दूसरे को ईद की बधाई दी। चौक, जुमेराती सहित सभी बाजारों में ईद की खुशियां मनाई गई। जमीअत उलमा मप्र के पदाधिकारी व सदस्य बाजारों में जाकर लोगों को मिठाई खिलाकर ईद की बधाई दी। घर-घर नमाज अदा करके अल्लाह से दुआ कर रहे हैं कि कोरोना से अब मुक्ति दिला दो। इसांनियत की भलाई और भोपाल में अच्छी बारिश के लिए दुआ की गई। जमीअत उलमा के प्रेस सचिव इमरान खान ने बताया कि सर्वधर्म सद्भावना मंच के प्रमुख लोगों ने ईद की बधाई दी।

Check Also

IMD Rain Update: पहाड़ों से लेकर मैदानों तक आफत की बारिश, अभी 4 दिन राहत के आसार नहीं

नई दिल्ली: देश में मानसून (Monsoon) गर्मी से राहत देने के लिए आता है. लेकिन यही …