आम खाने से आपके स्किन और बालों को होते हैं ये फायदे

गर्मियों का मौसम आम का सीजन होता है, जिसे फलों के राजा के तौर पर जाना जाता है। आम को सिर्फ अपने स्वाद की वजह से ही फलों का राजा नहीं कहा जाता, ये फल सेहत संबंधी तमाम फायदों और चिकित्सकीय गुणों की वजह से भी हर किसी का पसंदीदा बना हुआ है। आम में एंटी-ऑक्सीडेंट्स, विटामिन और मिनरल पर्याप्त मात्रा में पाया जाता है जो त्वचा के लिए बेहद जरूरी हैं। इसके अलावा आम में फायबर अधिक होता है, कैलरीज़ और सोडियम कम होता है। आम का फल विटामिन ए से भी समृद्ध होता है। इसमें विटामिन बी और सी के अलावा पोटेशियम, कैल्शियम और आयरन भी अच्छी खासी मात्रा में होता है।

1. आम में मौजूद बीटा कैरोटीन विटामिन ए में परिवर्तित हो जाते हैं, जिनका प्रभाव मुँहासों की समस्या पर पड़ता है। मुहासे ठीक होने में मदद मिलती है।

2. बीटा कैरोटीन एंटी एजिंग की समस्या को दूर करने में मददगार होता है। आमों में मौजूद विटामिन सी कोलेजेन कम करने में मदद करता है। इसके अलावा आम काले धब्बों और पिगमेंटेशन की समस्या को कम करने में भी कारगर होता है।3. आम का गूदा ग्लीसरिन या शहद के साथ त्वचा पर लगाए जाने से डेड स्किन को हटाने में मदद मिलती है और आपको सुंदर और दमकती हुई त्वचा मिलती है।

4. आम को एंटी ऑक्सीडेंट से भरपूर होने के कारण स्तन कैंसर, प्रोस्टेट कैंसर, पेट का कैंसर और यहां तक कि रक्त कैंसर को रोकने के लिए जाना जाता है।

5. ज्यादातर लोग मानते हैं कि आम खाने से मोटापा होता है लेकिन कम ही लोग जानते हैं कि आम में मौजूद फाइबर और विटामिन सी शरीर में बनने वाले लिपोप्रोटीन को तोड़ने में मदद करता हैं, पाचन तंत्र को मजबूत बनाता हैं और बॉविल मूवमेंट को नियमित करने में मदद करता है, जिससे मधुमेह और स्ट्रोक की संभावना कम होती है।

6. आम की गुठली को कुछ दिन तेल में रखें, उस तेल को फ़िर बालों में लगाएं, इससे बालों को झड़ने या सफ़ेद होने से रोका जा सकता है। आम की सुखी गुठली पीसकर पाउडर बनाकर इसे मेथी और दही में मिलाकर लगाने से रूसी की समस्या से निजात पायी जा सकती है।

7. आमों में बहुत सारे ट्रिप्टोफैन होते हैं जो “हैप्पी-हार्मोन” बनाने में मदद करते हैं। इसलिए आम को हैप्पी फ़्रूट कहा जाता है।

Check Also

हाथ-पैर की झनझनाहट को ना करें इग्नोर, अपनाएं ये घरेलू उपाय

कई बार ऐसा होता है कि शरीर में खास तौर पर हाथ और पैर में …

");pageTracker._trackPageview();