दुर्ग : आयुक्त ने किया एसएलआरएम सेंटर का निरीक्षण, कचरों के निष्पादन प्रक्रिया में तेजी लाने दिए निर्देश

21_10_177

दुर्ग, 21 सितंबर (हि.स.)। नगर पालिक निगम सीमान्तर्गत स्वच्छता सर्वेक्षण 2023 को ध्यान में रखते हुए निगम प्रशासन द्वारा शहर में और भी विशेष सफाई अभियान तेज कर दिया गया है। बुधवार सुबह आयुक्त प्रकाश सर्वे ने सुराना कॉलेज के सामने जीरो वेस्ट सेंटर में साफ सफाई एवं डोर टू डोर कलेक्शन की जानकारी लेते हुए व्यवस्थित करने का कहा है।

आयुक्त ने निरीक्षण के दौरान नगर चौपाटी का जायजा लिया। उन्होंने चौपाटी में साफ सफाई करवाने के लिए अधिकारी को निर्देशित किया। आयुक्त ने कहा कि गैंग लगाकर सफाई कराई जाए। आम जनता को जागरूक किया करे, साथ ही दुकानदार द्वारा गंदगी फैलाने वालों से जुर्माना भी किया जाये। सड़क किनारे वार्डों के भीतर सरकारी सड़क को अपनी जागीर समझने वाले सावधान हो जाए,भवन निर्माण सामग्री या मलबा सड़क पर डाला तो उन्हें बख्शा नहीं जाएगा बल्कि सामग्री को जब्त कर जुर्माना लगाया जाएगा। भवन निर्माण सामग्री डालकर सड़क को घेरने वाले स्थानों को चिन्हित करने का काम भी कर्मचारियों को सौंप दिया गया।

निगम ने साफ हिदायत दी कि सड़क पर मलबा या भवन निर्माण सामग्री मिले तो शुल्क वसूला जाएगा। निरीक्षण के दौरान स्वास्थ्य अधिकारी जावेद अली,कर्मशाला अधीक्षक शौएब अहमद, सफाई दरोगा सुरेश भारती, राजू सिंह, मनोहर शिंदे के अलावा आदि मौजूद रहे। एसएलआरएम सेंटर में एकत्रित कर कचरों का पृथकीकरण के बाद सूखे कचरे से प्राप्त पॉलीथीन को बेलिंग मशीन से बंडल बनाकर निष्पादन हेतु भेजा जा रहा है।इसी तरह गीले कचरो का पृथकीकरण के बाद एसएलआरएम सेंटर में सोनहा खाद नामक खाद बनाया जा रहा है। इसे खाद के रूप में प्रयोग किया जा रहा है। इस कार्य में तेजी आने के बाद अब निगम क्षेत्र में पॉलीथीन के कचरों का ढेर भी अब नजर नहीं आता। निगम आयुक्त प्रकाश सर्वे ने कचरे के पृथकीकरण कार्य में तेजी लाने के निर्देश दिए।

Check Also

ApfRvScbDhw6qCUxuOivzmalbSHxL5QVBRZA6cWf

गुजरात के गरबा को आईसीएच टैग के लिए अब भी करना होगा एक साल का इंतजार

भारत सरकार के संस्कृति मंत्रालय की नोडल एजेंसी के सूत्रों ने बताया कि गुजरात के …